स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ट्रैक्टर चोरी के चार आरोपी गिरफ्तार, 15 वारदातें स्वीकारी

Gaurav Kumar Khandelwal

Publish: Nov 12, 2019 08:24 AM | Updated: Nov 12, 2019 08:24 AM

Dausa

Four accused of tractor theft arrested, 15 cases accepted: एक दर्जन अन्य आरोपियों की तलाश

दौसा / सैंथल. जिले में एक के बाद ट्रैक्टर चोरी की वारदातों का खुलासा करते हुए सैंथल थाना पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। थाना प्रभारी रामशरण ने बताया कि 12 अक्टूबर की रात को सैंथल थाना इलाके के खारवालों की ढाणी में सड़क किनारे खड़े ट्रैक्टर को चोर चुरा ले गए थे।

Four accused of tractor theft arrested, 15 cases accepted

मामला दर्ज कर पुलिस अधीक्षक प्रहलाद सिंह कृष्णियां के निर्देश पर एएसपी अनिल सिंह चौहान एवं सीओ अकलेश कुमार के निर्देशन में थाना प्रभारी के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। पुलिस टीम ने इस मामले में अलवर के राजगढ़ के गांव खरखाला निवासी मोहनलाल मीणा, अलवर के चावण्ड बूचपुरी निवासी धर्मेन्द्र ऊर्फ भूरया मीना, चावण्ड बूचपुरी निवासी सतीश ऊर्फ सत्या व माचाड़ी निवासी सुन्दरलाल को गिरफ्तार कर किया। उन्होंने बताया कि उनके गिरोह में अन्य करीब एक दर्जन आरोपियों की अभी तक तलाश जारी है।


थाना प्रभारी ने बताया कि दौसा जिले में इस गिरोह ने अक्टूबर में मानपुर के मरियाड़ा, अक्टूबर में सैंथल के खारवाल ढाणी, सितम्बर 2019 में बसवा के कौलाना जेल के सामने, आठ माह पहले बांदीकुई रेलवे लाइन के समीप, एक वर्ष पहले बांदीकुई के बैजूपाड़ा, 10 महीने पहले बांदीकुई के जोगियों की ढाणी, एक वर्ष पहले मानपुर के लोटवाड़ा, आंधी थाने नाभावाला, बसवा के गुल्लाना,फरवरी 2019 में सैंथल के ही रामपुरा में से टै्रक्टर -ट्रॉली की वारदातें की है। इनके अलावा भी दिसम्बर 2018 में बापी, एक वर्ष पहले कानोता के जामड़ोली, डेढ़ वर्ष पहले जयपुर सिविल लाइन, दो वर्ष पहले कानोता व उसी समय जयपुर के गूणी ट्रैक्टर -ट्रॉली चोरी आदि से वारदातें की है।


थाना प्रभारी ने बताया कि गिरोह के सदस्य सड़कों के किनारे वाले गांवों में बाइक से आकर रैकी कर रात के समय वाहन चोरी की वारदातों को अंजाम देते है। यह लोग वाहन को चुरा कर मेवात इलाके में जाकर वहां पर दलालों के माध्यम से वाहन को सस्ते दामों में बेचते हैं। थाना प्रभारी ने बताया कि पुलिस को इस मामले में गैंग के एक दर्जन सदस्यों की तलाश है।


खुलासा करनेव वाली टीम में एएसआई नानगराम, एएसआई राकेश सिंह, हैडकांस्टेबल रामराज सिंह, प्रदीप सिंह, गिर्राज सिंह, देशराज, विनोद कुमार, रमेश, मनमोहन, दीपक कुमार व महेन्द्र कुमार आदि शामिल थे।

Four accused of tractor theft arrested, 15 cases accepted

[MORE_ADVERTISE1]