स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पहनावे में पारम्परिक के साथ फैशन का तड़का

Gaurav Kumar Khandelwal

Publish: Oct 23, 2019 08:31 AM | Updated: Oct 23, 2019 08:31 AM

Dausa

Fashion style with a traditional dress: पांच दिवसीय दीपोत्सव को लेकर बाजारों में खरीदारी तेज

दौसा. जिले में पांच दिवसीय दीपोत्सव को लेकर बाजारों में खरीदारी तेज होने लगी है। मंगलवार को पुष्य नक्षत्र के चलते खरीदारी शुभ मानी जाने से ग्राहकी अच्छी रही। इससे जिले में दीपावली का बूम दिखाई देने लगा है। लोगों ने इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद, घरेलू सामान, साज-सज्जा, ज्वैलरी सहित विभिन्न तरह के उत्पाद दुकानों से खरीदे।

Fashion style with a traditional dress


इन दिनों सबसे अधिक रौनक महिला-पुरुषों के रेडिमेड कपड़ों की दुकानों पर है। दिवाली में अब चंद दिन ही शेष रह गए हैं, इसलिए लोग अब अपनी डे्रस फाइनल करने में लगे हैं। इस बार बाजार में परम्परा के साथ फैशन मिक्स कपड़ों को खास पसंद किया जा रहा है। युवाओं व युवतियों में फिल्मी कलाकारों की तरह कपड़े खरीदने की चाह है। वहीं महिलाएं भी टीवी सीरियल्स की हीरोइनों की तरह साड़ी ले रही हैं।

इस बार बुटिक पर डे्रस डिजाइन का चलन भी बढ़ गया है। महिलाएं व युवती लहंगा, गाउन, क्रॉप टॉप स्कर्ट आदि बनवा रही हैं। इसी तरह लड़कों में कुर्ते-पायजामे व जैकेट का चलन बढ़ा है। इसके अलावा जिंस, शर्ट व पैंट भी खूब बिक रहे हैं। बच्चों के लिए खूब वैरायटियां उपलब्ध हैं। एक से बढ़कर एक डिजाइन से दुकानदार ग्राहकों को आकर्षित कर रहे हैं। महिलाओं को शिफॉन, फैंसी, चंदेरी, रो सिल्क आदि वैरायटी की साडिय़ां पसंद आ रही हंै।


टेलर व्यस्त, खूब काम


दिन-प्रतिदिन बदलती फैशन व कपड़ों के डिजाइन के दौर में बने रहने के लिए अब टेलरों ने भी सिलाई का तरीका बदल दिया है। जिले के टेलर वर्तमान फैशन, रेडीमेड कपड़ों की डिजायन व ग्राहक की मांग के अनुसार ही कपड़े सिलने लगे हैं। इससे टेलरों के पास भी काम बढ़ गया है। इन दिनों टेलर दिन-रात सिलाई में लगे हुए हैं। कईटेलर तो दिवाली तक कपड़े देने के नाम पर अब हाथ खड़े करने भी लगे हैं। वर्तमान में बाजार में 400 से 700 रुपए जोड़ी कपड़े की सिलाई ली जा रही है।

Fashion style with a traditional dress