स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

तलाई में मिला वृद्धा का शव

Rajendra Kumar Jain

Publish: Oct 08, 2019 10:45 AM | Updated: Oct 08, 2019 10:45 AM

Dausa

Dead body found in frying..... मंडावरी कस्बे का है मामला

 

लालसोट. मंडावरी कस्बे में बालीनाथ मंदिर के पास स्थित गंदे पानी की तलाई में एक वृद्धा की लाश मिलने से सनसनी फैल गई। मौके पर सैकड़ों लोग जमा हो गए।
मंडावरी थाना प्रभारी हरदयाल मीना ने बताया कि गुलाब देवी (75) पत्नी कन्हैयालाल बैरवा साल निवासी मंडावरी का शव बालीनाथ मंदिर के पास स्थित एक तलाई में मिला। जिसे ग्रामीणों की मदद से बाहर निकाला गया। बाद में पोस्टमार्टम कराकर शव को परिजनोंं के सुुपुर्द कर दिया। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर दर्जनों ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। लोगों ने पुलिस से शीघ्र जांच कर घटना के कारणों का खुलासा करने की मांग की। (नि.प्र.)

कुएं में गिरने से किशोरी की मौत
लालसोट . बिनोरी निवासी एक किशोरी की कुएं में गिरने से मौत हो गई। मंडावरी थाना प्रभारी हरदयाल मीना ने बताया कि सुमन उर्फ लाली पुत्री तेजराम मीना रविवार शाम अपने खेत पर कुएं के पास काम कर रही। तभी पैर फिसलने से कुए में गिरने से मौत हो गई। थाना प्रभारी ने बताया कि परिजनों ने मामला दर्ज नहीं कराया है। (नि.प्र.)


एक गिरफ्तार
लालसोट. रामगढ़ पचवारा थाना पुलिस ने गत माह सोनड़ गांव में शराब की दुकान में चोरी के मामले में एक जने को गिरफ्तार किया है। थाना प्रभारी अशोक झांझडिय़ा ने बताया कि गत माह 7 अगस्त को हुई इस घटना के एक अन्य आरोपी लल्लू कुमार मीना निवासी आमली ढाणी तन चूडिय़ावास को गिरफ्तार किया है।इस मामले के एक आरोपी को पूर्व मेंं ही गिरफ्तार किया जा चुका है।(नि.प्र.)

अतिक्रमण हटाने की मांग को लेकर अनशन पर बैठे
लालसोट. शहर के वार्ड 22 स्थित गोबरिया पाड़ा में मालेश्वर मंदिर पर किए गए अतिक्रमण को हटाने की मांग को लेकर क्षेत्र निवासी श्रवणलाल द्वारा पिछले पांच दिनों से अनशन किया जा रहा है।
श्रवणलाल ने बताया कि शहर के प्राचीन मालेश्वर मंदिर पर अतिक्रमण होने से उसकी पवित्रता व अस्तित्व पर संकट खड़ा हो गया है। वे अतिक्रमण हटाने की मांग को लेकर गत 2 अक्टूबर से अनशन पर बैठे हैं। इससे पूर्व भी वे अन्य लोगों के साथ अतिक्रमण हटाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री, जिला कलक्टर, उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार व पालिका के ईओ समेत कई अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन दे चुके है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होने से मंदिर के अस्तित्व बचाने के लिए अनशन पर बैठना पड़ा है।(नि.प्र.)