स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भारी बारिश के चलते छलक उठा मोरेल बांध, खूबसूरत नजारा देखने उमड़ी भीड़

anandi lal

Publish: Aug 16, 2019 16:15 PM | Updated: Aug 16, 2019 16:18 PM

Dausa

भारी बारिश के चलते छलक उठा मोरेल बांध, खूबसूरत नजारा देखने उमड़ी भीड़

दौसा। प्रदेश में इस बार हो रही भारी बारिश ( Heavy rain in Rajasthan ) से कई बांधों पर चादर चल रही है। तेज बारिश के चलते दौसा जिले ( Heavy rain in Dausa ) के सबसे बड़े मोरेल बांध में शुक्रवार दोपहर तक29 फीट पानी की आवक हो चुकी है। इस बांध की भराव क्षमता ऊंचाई में 30 फीट है। लेकिन क्षेत्रफल में 2 हजार 707 एमसीफीट है, जो जिले के सभी 39 बांधों का 38 प्रतिशत है। 38 साल बाद सर्वाधिक पानी पाने आने से मोरेल बांध छलका उठा है। जिला कलक्टर ने अधिकारियों को बांध पर भेजा है।

सन् 1981 में टूट गया था मोरेल बांध

वर्ष 1981 में भारी बारिश के चलते मोरेल बांध पानी के दबाव के कारण टूट गया था। इसके बाद इस बांध में अब पहली बार इतना पानी आया है। जिला कलक्टर ने जलसंसाधन विभाग के अधिकारियों को बांध पर ही ठहर कर स्थिति पर नजर रखने के निर्देश जारी किए हैं।


मोरेल नदी में भी ढाई फीट बह रहा पानी, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट जारी

मोरेल बांध अब मात्र एक फीट खाली रह गया है। जिला कलक्टर अविचल चतुर्वेदी ने जल संसाधन विभाग के अधिशाषी अभियंता एचएल मीना को भेज कर हाई अलर्ट जारी करा दिया। अधिकारी ने बताया कि 24 घंटे में बांध के ऑवर फ्लो होने की संम्भावना है। इधर लालसोट पुलिस प्रशासन भी बांध पर पहुंच गई है। अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी बांध का जायजा लेने पहुंच रहे हैं। बांध के भरने के बाद लोगों को सतर्क कर दिया गया है।


जिले के इन बांधों में आया जबरदस्त पानी

जिले में बड़े बांधों की संख्या 39 के करीब है। इनमें से सबसे बड़ा बांध मोरेल बांध है। अधिशाषी अभियंता एचएल मीना ने बताया कि इस बांध के अलावा जिले के सैंथल सागर में सवा 15 फीट, सिनोली में 6, झिलमिली में 7, गेटोलाव में सवा 5 फीट, चांदराना में साढ़े 8, सिंथोली में 4, माधोसागर में 5.4, रेडिया में 4, जगरामपुरा में डेढ़, कोट में सवा दो फीट पानी की आवक हुई है। इसी प्रकार पंचायतों के बांधों में सूरजपुरा में 13 फीट, हरिपुरा में 3.9, भांकरी में 5.2 फीट, रामपुरा में 4.5, महेश्वरा में 3.10, नामोलाव में 5.10, उपरेड़ा में 1.10, समसपुर में 3 फीट पानी की आवक हो चुकी है।

सूरजपुरा बांध में भी चली चादर

जिला मुख्यालय के समीपवर्ती सूरजपुरा बांध में भी बांरिश का जमकर पानी आ रहा है। 13 फीट भराव क्षमता वाले इस बांध में चादर चल रही है। बांध से बहते पानी को देखने के लिए आसपास के लोग आ रहे हैं। रुक- रुक कर हो रही से फसलों को भी काफी फायदा होगा। तेज बारिश से आमजन की परेशान भी नजर आने लगी है। लोगों का कहना है कि रिमझिम बारिश से उनका घर से निकलना दुभर हो गया है। लोगों के कामकाज अटके हुए हैं।

झमाझम बारिश के चलते स्कूल नहीं पहुंचे बालक

जिलेभर में गुरुवार रात से ही बारिश का दौर चल रहा है। शुक्रवार सुबह भी बारिश का दौर रूक-रूककर चलता रहा। इसके चलते स्कूलों में बहुत कम संख्या में बच्चे पहुंचे हैं।