स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आखिर गिरफ्तार हुआ बंगाली झोलाछाप, गलत इंजेक्शन से हो गई थी बच्चे की मौत

Mahesh Jain

Publish: Aug 22, 2019 18:39 PM | Updated: Aug 22, 2019 18:39 PM

Dausa

दौसा की मानपुर पुलिस तीन दिन से कर रही थी तलाश, अन्य झोलाछाप पर भी होगी कार्रवाई

दौसा. मानपुर. After all, the Bengali satrap was arrested, the child died due to wrong injectionकस्बे में सोमवार शाम बुखार से पीडि़त एक बच्चे की गलत इंजेक्शन से मौत होने के मामले में आरोपी झोलाछाप को पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। बच्चे की मौत के बाद से ही आरोपी क्लिनिक छोड़कर फरार चल रहा था। आरोपी झोलाछाप की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक प्रहलादसिंह कृष्णियां, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनिल चौहान, वृत्ताधिकारी सुरेशचंद मीना के निर्देशानुसार थानाप्रभारी सुरेंद्र कुमार के नेतृत्व में टीम गठित की गई थी। पुलिस गोपनीय तरीके से आरोपी की तलाश कर रही थी।

थानाप्रभारी ने बताया कि बच्चे की गैर इरादतन हत्या के आरोपी झोलाछाप नंटू उर्फ जय विश्वास निवासी ग्राम सप्त विसारपाड़ा, पश्चिमी बंगाल को मानपुर से ही गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट पर जल्द ही क्षेत्र में अन्य झोलाछापों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

यह था मामला
19 अगस्त की शाम छोटेलाल सैनी निवासी मीनापाड़ा बेटे सरदार सैनी को बुखार से पीडि़त होने पर इलाज के लिए मानपुर कस्बे में झोलाछाप के पास लाया था। जहां उसने बच्चे की जांच कराए बिना इंजेक्शन लगा दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। इससे पहले ही झोलाछाप घर से दवा लाने का बहाना बनाकर भाग गया। पिता ने देर रात आरोपी झोलाछाप के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कराया था।


परिजनों ने शव लेने से किया था इंकार
गलत इंजेक्शन से बच्चे की मौत के बाद पुलिस शव को बोर्ड से पोस्टमार्टम के लिए सिकराय लेकर गई थी, जहां जिला कलक्टर के निर्देश पर पोस्टमार्टम हो गया, लेकिन मंगलवार सुबह परिजनों ने आरोपी झोलाछाप की गिरफ्तारी के बाद ही शव लेने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। परिजनों के हंगामे के बाद प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों ने जल्द ही गिरफ्तारी का भरोसा दिलाकर पुलिस टीम का गठन किया था।

चिकित्सकों की शिकायतों पर होगी कार्रवाई-सीएमएचओ

दौसा. डिस्ट्रिक्ट क्वालिटी एश्योरेंस कमेटी की बैठक गुरुवार को सीएमएचओ कार्यालय में आयोजित हुई। इस दौरान सीएमएचओ डॉ. ओपी बैरवा ने कहा कि चिकित्सा संस्थानों में क्वालिटी सॢवस का ध्यान रखा जाए। इसके लिए अस्पतालों में साफ-सफाई और आने वाले मरीजों का सौहार्दपूर्ण वातावरण में उपचार करें। बार-बार चिकित्सकों या चिकित्सा•ॢमयों की ओर से अभद्र व्यवहार की शिकायतें आ रही हैं।

ऐसे में उन पर सख्त कार्यवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि जहां पूअर परफार्ममेंस है। वहां कमियों को दुरुस्त करें एवं समय पर टेलीशीट भरें। कमेटी के नोडल प्रभारी डिप्टी सीएमएचओ डॉ. सुभाष बिलोनिया ने प्रत्येक सेक्टर पर हर माह 19 तारीख को क्वालिटी एश्योरेंस कमेटी की बैठक आयोजित करने, आपदा प्रबंधन कमेटी का गठन जल्द से जल्द करने समेत 8 कमेटियों के गठन के निर्देश दिए।


इस मौके पर जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रामफल मीणा, जिला र्कायक्रम प्रबंधक गौरव गुप्ता, अरबन प्लानिंग कंसलटेंट पूजा सैनी, ब्लॉक कार्यक्रम प्रबंधक बांदीकुई लोकेश खंडेलवाल, बीपीएम लालसोट बसंत कौशिक, बीपीएम दौसा राजेन्द्र जांगिड़, बीपीएम महवा मोनेन्द्र पांडे, बीपीएम सिकराय अरविंद शर्मा सहित कमेटी के अन्य सदस्य मौजूद थे।

आखिर गिरफ्तार हुआ बंगाली झोलाछाप, गलत इंजेक्शन से हो गई थी बच्चे की मौत