स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हजारों ग्रामीण बैलाडीला पहुंच किया एनएमडीसी दफ्तर का घेराव, इधर नक्सली पर्चे से कर रहे आदिवासियों का समर्थन

Badal Dewangan

Publish: Jun 07, 2019 14:56 PM | Updated: Jun 07, 2019 14:56 PM

Dantewada

माओवादियों के इशारों पर हो रहा इतना बड़ा आंदोलन - एसपी

बैलाडीला स्थित खदान नंबर १३ को निजी कंपनी अडानी ग्रुप को सौंपे जाने से नाराज ग्रामीण आज बैलाडीला में लामबंद हुए हैं। शुक्रवार को बड़ी संख्या में हजारों ग्रामीण दंतेवाड़ा सुकमा बीजापुर से पैदल चलकर यहां विरोध प्रदर्शन करने पहुंचे है। बताया जा है कि, कल दोपहर तक छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भी यहां धरनास्थल पहुंचने वाले है।

आदिवासियों के इस प्रदर्शन को कांग्रेस व जोगी कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दलों का समर्थन हासिल है। नक्सली भी इस आंदोलन को पुरजोर समर्थन कर रहे है। नक्सली हर जगह सडक़ो पर पर्चा फेंक अपना साथ ग्रामीणों को दे रहे है।

यह पहली बार नहीं है
खदान को किसी निजी कंपनी के हाथों में सौपने का काम कोई नया नहीं है। इसके खिलाफ कई बार रैलियां निकाली गई कई जगह ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन भी किया। लेकिन इस बार लगभग पूरे संभाग बैलाडीला आकर आ सुबह से ही एनएमडीसी किरन्दुल के चेकपोस्ट को घेर लिया और वहां धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया।

आदिवासियों के समर्थन में नक्सलियों का साथ
एसपी अभिषेक पल्लव के मुताबिक माओवादियों के इशारों पर ही ग्रामीण एकत्रित हो रहे हैं। एहतियातन पुलिस के 400 जवान तैनात किए गए हैं जो हर गतिविधि पर कड़ी नजर रख रहे हैं। वहीं ड्रोन से भी समूचे इलाके की मानीटरिंग की जा रही है।