स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बाजार जा रहे थे गांव वाले अचानक बीच नदी में बंद हो गई मोटरबोट, ग्रामीणों ने एेसे बचाई जान

Akanksha Agrawal

Publish: Jul 09, 2019 10:45 AM | Updated: Jul 09, 2019 10:45 AM

Dantewada

छत्तीसगढ़ की इंद्रावती नदी पर मोटरबोट में पहुंचे 21 अलग-अलग गांव के लोगों की जान बीच मझधार में तब फंस गई जब उनकी बोट बीच नदी में बंद हो गई।

दंतेवाड़ा. दंतेवाड़ा जिले की इंद्रावती नदी (Indravati river) में सोमवार को अचानक आए तेज चक्रावाती हवाओं के बीच मोटरबोट बंद हो जाने से फंसे तीन बच्चों समेत 21 ग्रामीणों को दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव के नेतृत्व में रेस्क्यू टीम ने बचा लिया है।

जानकारी के मुताबिक गीदम व बारसूर के 21 ग्रामीण अपनी अपनी जरूरतों का सामान खरीदने बाजार जाने के लिए नदी में एक मोटरबोट पर सवार हुए थे। इसी बीच उनकी यह मोटरबोट मझधार में पहुंचकर तेज चक्रावाती हवाओं की चपेट में आ गई। एक ओर तेज हवा, दूसरी ओर इंद्रावती की उफनती धारा से उनकी बोट का इंजन बंद हो गया।

यह स्थिति इन ग्रामीणों के लिए खतरनाक बन गई थी। यदि रेस्क्यू टीम सही समय पर नहीं पहुंचती तो बड़ा हादसा हो सकता था। मोटरबोट में अलग-अलग गांव के 21 ग्रामीण जिनमें तीन बच्चो भी शामिल थे। अचानक हादसे के बाद नदी के बहाव से बचने के लिए सभी लोग जान बचाने के लिए सभी लोग नदी के बीच उभरी एक चट्टान पर चढ़ गए। इसकी जानकारी दूसरे ग्रामीणों को लगी तो उन्होने जिला मुख्यालय में उन्होने इसकी खबर भिजवाई।

 

Indravati river

4 फेरे में बचाए गए 21 लोग
रेस्क्यू टीम के तैराक पहले तो अपनी बोट पर सवार होकर उस चट्टान तक पहुंचे जहां ग्रामीण बैठे हुए थे। इन्होने एक एक कर अपने बोट में बिठाया। नदी की धार कोई बह न जाए इसके लिए रस्सी बांधकर अस्थाई बांध बनाया गया था। इसके बाद रेस्क्यू टीम ने एक-एक कर चार फेरे लगाकर इन ग्रामीणों को सुरक्षित निकाल लिया। अभियान की गंभीरता देखते हुए जगदलपुर से भी मदद मांगी गई थी। पूरे अभियान के दौरान एसपी पल्लव, एएसपी सूरज सिंह परिहार मौके पर मौजूद रहे।

सभी को सुरक्षित बचाया
बस्तर रेंज के आईजी विवेकानंद सिन्हा ने बताया कि मोटरबोट में खराबी की वजह से इंद्रावती नदी की धारा के बीच फंसे सभी ग्रामीणों को सुरक्षित बचा लिया गया है। दंतेवाड़ा पुलिस व होमगार्ड की टीम ने सराहनीय कार्य किया है।

 

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News

एक ही क्लिक में देखें Patrika की सारी खबरें