स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बहन रात में आ गई थी भाई को राखी बांधने, फिर भी सूनी रही भाई की कलाई जानिए क्यों

Laxmi Kant Tiwari

Publish: Aug 16, 2019 21:46 PM | Updated: Aug 16, 2019 21:46 PM

Damoh

रक्षाबंधन को नहीं बांध पाई राखी, हो गई यह दर्दनाक घटना

दमोह. ससुराल से अपने भाई को राखी बांधने आई एक बहन की, राखी बांधने से पहले ही सर्पदंश से मौत हो गई। मामले में बताया गया है कि सागर जिले के मोती नगर थानांतर्गत रहने वाली गीता पति धरमवीर रजक (२८) अपने भाई कमलेश रजक को राखी बांधने दमोह देहात थानांतर्गत महंतपुर पटमोना आई हुई थी। बुधवार रात ससुराल से घर आने के बाद भाई कमलेश की पसंद की उसने राखी खरीदी, परिजनों के साथ खुशी-खुशी खाना खाया। इसके बाद वह सो गई। लेकिन सोते समय ही रात में अचानक घर में काला नाग आ गया। जिसने उसे डस लिया। देखते ही देखते गीता को तुरंत ही जिला अस्पताल लाया गया। डॉक्टर ने इलाज शुरू किया। लेकिन धीरे-धीरे हालत बिगड़ी और मूल रक्षाबंधन के दिन सुबह की उसकी मौत हो गई। रक्षाबंधन के दिन ही महिला का शव पंचनामा करने के बाद परिजनों को उसका शव सौंपा गया।
बिलखते रहे परिजन -
कमलेश रजक बहन गीता के शव को देखने के बाद बिलखता रहा। उसे इस बात का अफसोस था कि वह बहन के हाथ से राखी भी नहीं बंधा पाया और उसकी बहन इस दुनिया को छोड़कर चली गई।