स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जयंत मलैया के बूथ पर मिले प्रहलाद पटैल को इतने वोट,किसे थी अलग उम्मीद

Samved Jain

Publish: May 28, 2019 17:05 PM | Updated: May 28, 2019 17:05 PM

Damoh

दमोह सहित कुछ वार्डों में नहीं चला मोदी फैक्टर , दमोह के बजरिया 7 में प्रहलाद को मिले 8 वोट , विधायकों में हर्ष व तरवर ही जिता पाए अपना बूथ

दमोह. मोदी की आंधी दमोह लोकसभा के कुछ क्षेत्रों पर असर नहीं दिखा पाई है। अन्य विधानसभाओं में तो भाजपा को जबरदस्त वोट मिले हैं, लेकिन दमोह विधानसभा के कुछ वार्डों में मोदी आंधी थम सी गई है। बजरिया वार्ड 7 में तो यह आंधी महज 8 वोटों तक सिमट गई है, जबकि भाजपा के एक बूथ पर 30 से अधिक कार्यकर्ताओं की तैनाती की गई थी। भाजपा के सभी विधायकों के बूथों पर जीत मिली है तो कांग्रेसी विधायकों में हर्ष व तरवर ही ऐसे हैं जो अपने बूथ बचाने में कामयाब हुए हैं। बसपा विधायक रामबाई भी अपना बूथ नहीं बचा पाई हैं। इसके अलावा दमोह जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजय टंडन भी अपने बूथ पर भी कांग्रेस को विजय नहीं दिला पाए हैं। सबसे खास बूथ रहा पूर्व मंत्री जयंत मलैया का, इनके वार्ड से प्रहलाद पटैल को जितनी वोटें मिली हैं, उसके बाद लोगों का खुद से भी विश्वास हटने लगा है। यहां यह भी बता दें कि पूरे चुनाव के दौरान मलैया को एंटी प्रहलाद के रूप में देखा जा रहा था, लेकिन नतीजों के बाद अब लोग कुछ समझ नहीं पा रहे है। खैर, ये राजनीति है, सब के बस की नहीं।

damoh

भाजपा को चार वार्डों में करारी शिकस्त
दमोह विधानसभा के दमोह शहर के वार्डों की बात करें तो चार वार्डों में मोदी लहर के बावजूद भाजपा को बहुत कम मत मिले हैं। बजरिया 8 में प्रहलाद को 38 वोट, बजरिया 7 के एक भाग में 8 वोट व दूसरे भाग में 38 वोट मिले हैं। वहीं बजरिया 1 में प्रहलाद को महज 15 वोट ही मिल पाए हैं। कालापानी में दोनों प्रत्याशियों को 87-87 वोट मिले हैं।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष के वार्ड में करारी हार
यह संयोग है कि कांग्रेस जिलाध्यक्ष अजय टंडन व भाजपा जिलाध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव एक ही वार्ड के निवासी है। इस वार्ड से कांग्रेस प्रत्याशी को करारी हार मिली है। जिस बूथ पर जिलाध्यक्ष व उनके टंडन परिवार ने वोट डाली वहां प्रताप को 174 व प्रहलाद को 464 मिले हैं। जबकि यह वार्ड टंडनों के द्वारा ही बसाया गया है।

damoh

पूर्व वित्तमंत्री के वार्ड में कांग्रेस की करारी हार
पूर्व वित्तमंत्री जयंत मलैया के वार्ड में कांग्रेस को करारी हार मिली है। इनके यहां बूथ के एक भाग में कांगे्रस को 59 वोट व दूसरे में 53 वोट मिले हैं। यहां प्रहलाद को 556 व 638 रिकार्ड मत प्राप्त हुए हैं।
अन्य प्रत्याशी अपने बूथ पर फिसड्डी
अन्य प्रत्याशी जो दमोह विधानसभा क्षेत्र में शामिल थे उनमें प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के प्रत्याशी टीडी पटेल को उनके मुडिय़ा वोट पर महज 22 वोट मिले हैं। वहीं सपाक्स प्रत्याशी रिचा पुरषोत्तम चौबे को रैयतवारी बूथ पर 6 वोट व निर्दलीय कमलेश असाटी को सिविल वार्ड 03 में उन्हें महज 6 वोट मिले हैं।

damoh

हर्ष और तरवर ने बचाए अपने बूथ
कांग्रेस के देवरी विधायक हर्ष यादव ने अपने रसेना बूथ पर कांग्रेस प्रत्याशी को जीत दिलाई है, यहां प्रताप को 516 मत मिले हैं, प्रहलाद के खाते में 187 वोट ही आए हैं। इसी तरह कांग्रेस के बंडा विधायक तरवर सिंह लोधी भी अपने पड़वार बूथ पर कांग्रेस को जिताने में सफल रहे हैं। यहां प्रताप को 164 मत व प्रहलाद को 139 मत मिले हैं। कांग्रेस के बड़ामलेहरा विधायक प्रदुम्मन सिंह के हिंडोरिया स्थित वार्ड में प्रताप को 108 व प्रहलाद को 754 वोट मिले हैं। इसी तरह दमोह विधायक राहुल सिंह के हटा स्थित खैरुआ बूथ पर प्रताप को 124 वोट व प्रहलाद को 229 बूथ मिले हैं।
बसपा विधायक के बूथ पर भाजपा का परचम
पथरिया की बसपा विधायक रामबाई के बूथ हिनौता नर में स्थिति यह रही कि प्रताप को 100 वोट मिले वहीं प्रहलाद को 329 वोट मिले। यहां बसपा प्रत्याशी जित्तू खरे बादल को 88 वोट ही मिले है। इसी विधानसभा के किशुनगंज के रहवासी जित्तू खरे को अपने स्वयं के बूथ किशुनगंज में 88 वोट मिले हैं। इसी विधानसभा से भारतीय शक्ति चेतना पार्टी के मान सिंह लोधी भी मैदान में थे, जिन्हें अपने बूथ पर एक वोट जो उनका ही प्रतीत हो रहा है मिला है।