स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उन्नाव रेप केस: सुनवाई के लिए एम्‍स को बनाया गया अस्‍थाई कोर्ट, दर्ज किए जा रहे हैं पीड़िता के बयान

Shiwani Singh

Publish: Sep 11, 2019 13:11 PM | Updated: Sep 11, 2019 20:39 PM

Crime

  • उन्नाव रेप केस मामले में अदालत का बड़ा कदम
  • सुनवाई के लिए एम्स में बनाया गया ट्रायल कोर्ट
  • दर्ज किए जा रहा है पड़िता का बयान

नई दिल्ली। उन्‍नाव रेप मामले को लेकर बड़ी ख़बर सामने आई है। इस मामले की सुनवाई के लिए दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान यानी एम्स (AIIMS) में फास्‍ट ट्रैक कोर्ट लगाया गया है। यहां लगाए गए अस्थाई कोर्ट में उन्नाव रेप पीड़‍िता की गवाही ली जा रही है। सुबह 11 बजे सुनवाई के लिए एम्स के ट्रायल कोर्ट के जज पहुंच गए थे।

बता दें कि सड़क हादसे में जख्मी उन्नाव रेप पीड़िता का एम्स में इलाज चल रहा है। पीड़िता की हालत इतनी नाजुक है कि वह सुनवाई के लिए कोर्ट नहीं आ सकती। इसलिए एम्स में अस्थाई फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाया गया है। जानकारी के मुताबिक दो दिन पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने एम्स में अस्थाई अदालत लगाने का आदेश दिया था।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पीड़िता से बंद कमरे में बयान दर्ज किए जाएंगे। इस दौरान किसी भी प्रकार की ऑडियो-वीडियो रिकॉर्डिंग पर प्रतिबंध है। इसके लिए अदालत की तरफ से एम्स प्रशासन को बकायदा निर्देश दिए गए हैं। पीड़िता और आरोपी का आमना-सामना ना हो इसकी भी व्यवस्था की गई है।

क्या है मामला

e56498c2-4b54-49ea-9190-17f83492fdbc.jpeg

पीड़िता ने उन्नाव के बांगरमऊ से बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर पर रेप का आरोप लगाया था। इस मामले में जांच चल रही थी तभी बीते 28 जुलाई को रायबरेली से उन्नाव लौटते वक्त उनकी गाड़ी में ट्रक से जोरदार टक्कर मार दी गई थी। इस दौरान कार में सवार पीड़िता की दो महिला रिश्तेदारों की मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं, खुद पीड़िता और उसके वकील गंभीर रूप से घायल हैं। पीड़िता का पहले लखनऊ में इलाज चल रहा था। जिसके बाद उसे दिल्ली इलाज के लिए लाया गया।