स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

घरेलू हिंसा के मामले में युवराज और उनके परिवार को मिली राहत, जोरावर की पत्नी ने लिया केस वापस

Mazkoor Alam

Publish: Sep 11, 2019 21:57 PM | Updated: Sep 12, 2019 08:55 AM

Cricket

युवराज के भाई से तलाक मिलने के बाद उनकी पूर्व पत्नी आकांक्षा ने युवराज के परिवार पर लगाया गया घरेलू हिंसा का आरोप वापस ले लिया है।

चंडीगढ़ : घरेलू हिंसा का केस झेल रहे युवराज सिंह, उनकी मां शबनम और भाई जोरावर को उस वक्त बड़ी राहत मिली, जब युवराज सिंह की भाभी ने केस वापस ले लिया। बुधवार को युवराज के परिवार की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक जोरावर सिंह की पत्नी ने तलाक मिलने के बाद घरेलू हिंसा का मामला न सिर्फ वापस ले लिया, बल्कि दुर्भावनापूर्ण तरीके से युवराज का नाम घसीटने के लिए माफी भी मांगी।

दिल्ली के इस स्टेडियम में होगा विराट कोहली स्टैंड का अनावरण, टीम इंडिया की रहेगी मौजूदगी

जोरावर की पत्नी आकांक्षा ने लगाया था आरोप

बता दें कि युवराज सिंह के भाई जोरावर सिंह की पत्नी आकांक्षा शर्मा, जो अलग रहती थीं, उन्होंने युवराज के खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कराया था। चार महीने की कानूनी लड़ाई के बाद आकांक्षा और जोरावर के बीच इस महीने तलाक हो गया। बता दें कि आकांक्षा ने गुरुग्राम की एक अदालत में अक्टूबर 2017 में जोरावर की पत्नी ने घरेलू हिंसा का मामला दर्ज किया था। इसमें उन्होंने जोरावर के साथ-साथ युवराज सिंह और उनकी मां शबनम को भी आरोपी बनाया था।
युवराज के परिवार का कहना है कि आकांक्षा ने युवराज और उनके परिवार के खिलाफ झूठे आरोप लगाने के लिए उनसे माफी भी मांगी। हालांकि इस मामले में आकांक्षा शर्मा की तरफ से अभी कोई बयान नहीं आया है।

मुख्य कोच के दूसरे कार्यकाल में रवि शास्त्री का ध्यान बेंच स्ट्रेंथ मजबूत करने पर

युवराज के परिवार ने कहा- दुर्भावना के कारण उठाया गया था यह कदम

युवराज के परिवार ने बहा कि जब आकांक्षा ने देखा कि उनके खिलाफ कानूनी प्रक्रिया से बचने का और कोई तरीका नहीं है तो उन्होंने माफी मांग ली और स्वीकार किया कि सारे आरोप झूठे थे। उन्होंने इन आरोपों को वापस ले लिया है। परिवार ने बताया कि फायदा उठाने के लिए यह आरोप लगाया गया था।