स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कोलकाता डे-नाइट टेस्ट में टीम इंडिया का पलड़ा भारी, कुलदीप को मिल सकता है मौका

Mazkoor Alam

Publish: Nov 21, 2019 16:59 PM | Updated: Nov 21, 2019 19:26 PM

Cricket

भारत और बांग्लादेश की टीमें शुक्रवार को डे-नाइट टेस्ट मैच में जब मैदान पर उतरेंगी तो दोनों टीमें इतिहास कायम करेंगी।

कोलकाता : टीम इंडिया जब बांग्लादेश के साथ शुक्रवार से ईडेन गार्डेन्स स्टेडियम में खेले जाने वाले अपने पहले ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट मैच में उतरेगी तो इसे जीतकर उसका इरादा इतिहास रचने का होगा। अगर वह ऐसा करने में सफल रही तो यह टीम इंडिया की लगातार ऐसी तीसरी टेस्ट सीरीज होगी, जिसमें वह विपक्षी टीम का क्लीन स्वीप करेगी। दो टेस्ट मैचों की इस सीरीज में भारत पहला टेस्ट जीतकर 1-0 से आगे है। भारत ने इंदौर टेस्ट में बांग्लादेश को एक पारी और 130 रनों से मात दी थी।

भारत का पलड़ा भारी

वर्तमान फॉर्म को देखते हुए टीम इंडिया का पलड़ा भारी लगता है। उसके सारे बल्लेबाज और गेंदबाज अच्छे फॉर्म में हैं और जबरदस्त खेल दिखा रहे हैं। पिछले मैच में सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (243) ने शानदार दोहरा शतक लगाया था। हालांकि रोहित शर्मा और विराट कोहली नाकाम रहे थे, लेकिन यह सिर्फ एक मैच की विफलता है। इन दोनों ने पिछले मैचों में शानदार प्रदर्शन किया है। मयंक के अलावा चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे ने भी इंदौर टेस्ट में शानदार बल्लेबाजी की थी। इन दोनों ने अर्धशतकीय पारी खेली थी। विकेट के पीछे वृद्धिमान साहा का प्रदर्शन भी टेस्ट मैचों में अच्छा रहा है। इसलिए इनका खेलना भी तय माना जा रहा है।

युवराज सिंह ने किया भविष्य की योजना का खुलासा, कोच की भूमिका में आ सकते हैं नजर

तेज गेंदबाज हैं जबरदस्त फॉर्म में

डे-नाइट टेस्ट को लेकर विशेषज्ञ मान रहे हैं कि इस मैच में तेज गेंदबाजों का बोलबाला रहेगा। ऐसे में तेज गेंदबाजों की तिकड़ी मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा और उमेश यादव का खेलना पक्का लगता है। इसके अलावा इन तीनों ने पिछले मैच में जबरदस्त प्रदर्शन भी किया था। इन तीनों ने मिलकर मोहम्मद शमी की अगुआई में विपक्षी टीम के गिरे 20 विकेट में से 14 खुद चटका दिए थे। इंदौर टेस्ट में मोहम्मद शमी ने जहां सात विकेट लिए थे तो वहीं उमेश यादव ने चार और ईशांत शर्मा ने तीन विकेट चटकाए थे।

कुलदीप को मिल सकता है मौका

स्पिन विभाग में एक परिवर्तन हो सकता है। इसका कारण यह है कि ओस और सीम के कारण इस मैच में अंगुली के स्पिनर संघर्ष कर सकते हैं, वहीं कलाई के स्पिनरों को मदद मिल सकती है। वह खतरनाक हो सकते हैं। अगर टीम इंडिया की बात करें तो इस समय टीम इंडिया में खेल रहे दोनों स्पिन रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन अंगुली के स्पिनर हैं, जबकि 15 में शामिल कुलदीप यादव कलाई से गेंद घुमाते हैं। इसलिए इन दोनों में से किसी एक की जगह कुलदीप को मौका मिल सकता है। अगर पिछले मैच की बात करें तो शमी के बाद सबसे ज्यादा पांच विकेट लेने वाले गेंदबाज अश्विन ही थे तो वहीं रविंद्र जडेजा को एक भी विकेट नहीं मिल पाया था, लेकिन बल्लेबाजी में कमाल दिखाते हुए इन्होंने तेज नाबाद 60 रन की पारी खेली थी। ऐसे में टीम इंडिया के सामने यह चुनौती रहेगी कि इन दोनों में से किसे बाहर कर कुलदीप को टीम में शामिल करे। हालांकि भारतीय बल्लेबाज फॉर्म में हैं। ऐसे में टीम इंडिया जडेजा को बाहर कर अपने गेंदबाजी आक्रमण को मजबूत करने के लिए कुलदीप को मौका दे सकती है।

धोनी नहीं ले रहे हैं क्रिकेट से संन्यास, आईपीएल में खेलेंगे सीएसके की तरफ से

ऐसी हो सकती है भारतीय एकादश

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, वृद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, उमेश यादव और ईशांत शर्मा।

बांग्लादेश के बल्लेबाज और गेंदबाज कर रहे हैं संघर्ष

वहीं बांग्लादेश की बात करें तो उसके स्टार खिलाड़ी शाकिब अल हसन पर दो साल का प्रतिबंध लगा होने की वजह से टीम से बाहर हैं। वहीं तमीम इकबाल निजी कारणों से टीम के साथ भारत दौरे पर नहीं आए हैं। इसके अलावा दौरे पर आए खिलाड़ियों में बल्लेबाज मुशिफिकुर रहीम और कप्तान मोमीन उल हक तथा गेंदबाजी में अबु जायद के अलावा बाकी के सारे खिलाड़ी संघर्ष करते नजर आए हैं। ऐसे में अगर उन्हें भारत के सामने चुनौती पेश करनी है तो उनके बाकी के खिलाड़ियों को भी बेहतर खेल दिखाना होगा।

टीमें : (संभावित)

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, वृद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, ईशांत शर्मा, हनुमा विहारी, रविंद्र जडेजा, शुभमन गिल और ऋषभ पंत।

बांग्लादेश : मोमीनुल हक (कप्तान), अल-अमीन हुसैन, इमरुल कायेस, शदमान इस्लाम, अबू जायद, महामुदुल्लाह, मोसाद्देक हुसैन, मेहेदी हसन मिराज, लिटन दास, मुश्फीकुर रहीम, मोहम्मद मिथुन, तइजुल इस्लाम, नईम हसन, मुस्ताफिजुर रहमान, इबादत हुसैन।

[MORE_ADVERTISE1]