स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

T-20 सीरीज जीतने के इरादे से मैदान पर उतरेगी आज 'विराट टीम'

Mazkoor Alam

Publish: Dec 07, 2019 16:33 PM | Updated: Dec 08, 2019 10:28 AM

Cricket

पहले टी-20 मैच में लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने अपने टी-20 इतिहास की सबसे बड़ी जीत हासिल की थी, इसलिए उसका मनोबल बढ़ा रहेगा।

T-20 सीरीज जीतने के इरादे से मैदान पर उतरेगी आज विराट सेना

तिरुवनंतपुरम : वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले जा रहे तीन टी-20 मैच की सीरीज के पहले मैच में भारत ने टी-20 इतिहास की सबसे बड़ी जीत हासिल की थी। इससे पहले भारत ने 207 रनों का सफलतापूर्वक पीछा किया था। अब टीम इंडिया आज यहां ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल स्टेडियम में जब दूसरा टी-20 मैच खेलने उतरेगी तो उसकी नजर सीरीज जीतने पर रहेगी। पहले मैच में भारत की इस जीत में कप्तान विराट कोहली (नाबाद 94) के अलावा लोकेश राहुल (62) ने अहम योगदान दिया था। इन दोनों ने 208 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए करीब 10 की औसत से दूसरे विकेट के लिए 100 रनों की साझेदारी कर भारत पर दबाव नहीं आने दिया था।

भारत की बल्लेबाजी रही शानदार

भारतीय टीम के बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। इससे टीम प्रबंधन बेहद खुश होंगे और वह चाहेगी कि बल्लेबाजों का यह फॉर्म बना रहे। हालांकि इस मैच में रोहित शर्मा और श्रेयस अय्यर नहीं चले, लेकिन अय्यर ने पिछले कुछ दिनों से जिस तरह की निरंतरता दिखाई है उसे देखते हुए यह एक मैच की ही बात लगती है। रही बात रोहित शर्मा की तो वह बड़े खिलाड़ी हैं और इन दिनों शानदार फॉर्म में हैं। इसके अलावा ऋषभ पंत ने राहुल के आउट 18 रनों की संक्षिप्त मगर तेज पारी खेली। जिस कारण टीम इंडिया पर दबाव नहीं बना। इसलिए वह एक और मैच के हकदार तो बन ही गए हैं।

इरफान ने बुमराह को बच्चा बोलने वाले पाकिस्तानी हरफनमौला रज्जाक की बंद की बोलती

गेंदबाजी पूरी तरफ फ्लॉप रही

दूसरी तरफ अगर हम गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण की बात करें तो यह नहीं कह सकते। सभी भारतीय गेंदबाजों ने जमकर रन लुटाए। खासकर बांग्लादेश के खिलाफ हैट्रिक लेकर राष्ट्रीय हीरो बने दीपक चाहर को काफी मार लगी। चार ओवर में उन्होंने 56 रन लुटा दिए। हालांकि उन्होंन एक विकेट लिया, लेकिन कोई प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे। लेकिन बांग्लादेश के खिलाफ विंडीज दौरे से ही वह जिस तरह का प्रदर्शन करते आ रहे हैं, इसे देखते हुए उनके स्थान पर कोई खतरा नजर नहीं आता। इस मैच में वाशिंगटन सुंदर ने एक विकेट तीन ओवर में ही 34 रन लुटा दिए। ऐसे में एक यही बदलाव टीम इंडिया कर सकती है। उनकी जगह वह कुलदीप यादव को दूसरे मैच में आजमा सकती है।

क्षेत्ररक्षण की बात करें तो भारत ने पहले मैच में कई कैच छोड़े थे। यह भी एक वजह थी, जिस कारण कैरेबियाई टीम 207 रन खड़ा करने में कामयाब हो गई थी।

विंडीज के बल्लेबाजों ने दिखाया दम, गेंदबाजी रही बेदम

विंडीज की बात करें तो वह यह मैच जीतकर सीरीज में बने रहना चाहेगी। पहले मैच में विंडीज के बल्लेबाजों ने तो दम दिखाया, लेकिन गेंदबाजी पूरी तरह बेअसर रही। इस कारण 207 रन बनाने के बावजूद वह हार गई। कप्तान पोलार्ड भी मानते हैं कि टीम की गेंदबाजी में सुधार की जरूरत है। उनके गेंदबाज ठिकाने पर गेंद भी नहीं कर पा रहे थे। इस कारण टीम ने 23 रन अतिरिक्त रन दे दिए, जो हार का कारण बनी। इसलिए वह उम्मीद करेंगे कि दूसरे मैच में उनकी गेंदबाजी अच्छी हो।

महेंद्र सिंह धोनी के भविष्य पर सौरव गांगुली का बड़ा बयान, वह और विराट चयनकर्ताओं से कर रहे हैं बात

भारतीय एकादश : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, शिवम दुबे, रविंद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार।

बेंच : संजू सैमसन, मनीष पांडेय, वाशिंगटन सुंदर और मोहम्मद शमी।

वेस्टइंडीज : कीरोन पोलार्ड (कप्तान), फेबियन एलन, शेल्डन कॉटरेल, शिमरन हेटमायर, जेसन होल्डर, ब्रैंडन किंग, एविन लुइस , कीमो पॉल, निकोलस पूरन, खारी पीएरे, दिनेश रामदीन, शेरफाने रदरफोर्ड, लेंडल सिमंस, हेडन वॉल्श जूनियर और किसरिक विलियम्स।

[MORE_ADVERTISE1]