स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इस भारतीय गेंदबाज ने मचा दिया 'गदर', पहले स्पेल में रहे 'साधारण' दूसरे में 'असाधारण'

Manoj Sharma Sports

Publish: Aug 24, 2019 09:20 AM | Updated: Aug 24, 2019 16:30 PM

Cricket

  • इशांत शर्मा ने पहले स्पैल मेंं पांच ओवर गेंदबाजी कर लुटाए 30 रन।
  • अगले सात ओवर में इशांत ने 9 रन देकर ही झटक लिए पांच विकेट।

एंटिगा। बल्ले से उपयोगी पारी खेलने के बाद तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (42 रन पर 5 विकेट) की शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन अपनी स्थिति मजबूत कर ली।

भारतीय गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने मैच के दूसरे दिन 189 रन पर वेस्टइंडीज के आठ विकेट झटक कर उसे संकट में डाल दिया। भारत ने पहली पारी में 297 रन का स्कोर बनाया था। इसे देखते हुए वेस्टइंडीज अभी भारत के स्कोर के 108 रन पीछे है जबकि उसके दो विकेट ही शेष है।

पुलिस की बड़ी कामयाबी: धोनी, कोहली समेत पूरी टीम इंडिया को जान से मारने की धमकी देने वाले को धर दबोचा

स्टंप्स के समय कप्तान जेसन होल्डर 20 गेंदों पर एक चौके की मदद से 10 और मिग्यूएल कमिंस दो गेंदों पर खाता खोले बिना नाबाद लौटे। भारतीय टीम को उसकी पहली पारी में 297 रन पर ऑलआउट करने के बाद अपनी पहली पारी की शुरूआत करने उतरी वेस्टइंडीज को पहला झटका 36 के स्कोर पर जॉन कैम्पवेल (23) के रूप में लगा। उन्होंने 30 गेंदों पर चार चौके लगाए।

मेजबान टीम ने इसके बाद 48 के स्कोर पर क्रैग ब्रैथवेट (14) को दूसरे विकेट के रूप में गंवा दिया।वहीं अपना पदार्पण टेस्ट मैच खेल रहे शामरा ब्रूक्स (11) को 50 के स्कोर पर तीसरे विकेट के रूप में गंवा दिया। वेस्टइंडीज की टीम चायकाल के बाद एक समय चार विकेट पर 88 रन और फिर इसके बाद पांच विकेट पर 174 रन बना चुकी थी।

भारत-पाक के बीच जंग कराने पर आमादा यह पूर्व क्रिकेटर, परमाणु हमले की रखता है ख्वाहिश

इसके बाद इशांत ने अगले तीन ओवर में पांच रन के अंदर ही तीन विकेट लेकर मेजबान टीम को संकट में डाल दिया। इशांत ने करियर में नौवीं बार पांच विकेट हासिल किए हैं। इशांत ने पहली पारी में बल्ले से भी 19 रनों की उपयोगी पारी खेली थी। उन्होंने रवींद्र जडेजा के साथ आठवें विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी करके भारत को 297 रन तक पहुंचाया था।

वेस्टइंडीज के शीर्ष तीन बल्लेबाजों के अलावा डैरेन ब्रावो ने 27 गेंदों पर 18, रोस्टन चेज ने 74 गेंदों पर 48, शाई होप ने 65 गेंदों पर 24, शिमरोन हेटमेयर ने 47 गेंदों पर 35 और केमार रोच ने शून्य रन बनाए। चेज ने पांच चौके और एक सिक्स जबकि हेटमेयर ने तीन चौके लगाए।

यह भी पढ़ेंः सोशल मीडिया पर धूम मचा रही है वीरेंद्र सहवाग की ये तस्वीर

ishant_sharma_2.jpeg

बारिश के कारण दिन के तीसरे सेशन में खेल को कुछ समय के लिए रोका भी गया था। इशांत के पांच विकेटों के अलावा मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह और रवींद्र जडेजा को अब तक एक-एक विकेट मिले हैं। बुमराह इसके साथ ही सबसे कम मैच में 50 टेस्ट विकेट लेने वाले पहले भारतीय तेज गेंदबाज बन गए है। उन्होंने 11वें टेस्ट मैच में यह उपलब्धि हासिल की है।

बुमराह ने डेरेन ब्रावो (18) को पगबाधा आउट करके अपना 50वां विकेट लिया। उन्होंने भारतीय तेज गेंदबाजों में इस मुकाम पर सबसे तेज पहुंचने के वेंकटेश प्रसाद और मोहम्मद शमी (दोनों 13 टेस्ट मैच) के पिछले रिकार्ड को तोड़ दिया।

भारत की तरफ से सबसे कम मैचों में 50 विकेट लेने का रिकार्ड अब भी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (नौ मैच) के नाम पर है। इससे पहले, भारत ने अजिंक्य रहाणे (81) और रवींद्र जडेजा (58) के अर्धशतकों की मदद से अपनी पहली पारी में 297 रन का स्कोर बनाया। भारत ने अपने कल के स्कोर छह विकेट पर 203 रन से आगे खेलना शुरू किया। ऋषभ पंत ने 20 और रवींद्र जडेजा ने अपनी पारी को तीन रन से आगे बढ़ाया।

यह भी पढ़ेंः जिस कोच को भारत ने 'ठुकराया’, उसने पाकिस्तान को दिखाया 'ठेंगा'

टीम ने अपने कल के स्कोर में एक रन का ही इजाफा किया था कि पंत आउट हो गए। उन्होंने 24 रन बनाए और चार चौके लगाए। पंत के आउट होने के बाद जडेजा और ईशांत शर्मा (19) के बीच आठवें विकेट के लिए 60 रनों की साझेदारी हुई।

ईशांत ने 62 गेंदों का सामना कियाए जिसमें उन्होंने एक चौका लगाया। जडेजा ने इसके बाद जसप्रीत बुमराह (नाबाद 4) के साथ अंतिम विकेट के लिए 29 रनों की अहम साझेदारी कर भारत को 297 रनों तक पहुंचाया। जडेजा ने 112 गेंदों की पारी में छह चौके और एक सिक्स जमाया। इस दौरान उन्होंने अपने करियर का 11वां अर्धशतक पूरा किया।

उनके अलावा लोकेश राहुल ने 97 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से 44, हनुमा विहारी ने 56 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से 32, मयंक अग्रवाल ने पांचए चेतेश्वर पुजारा ने दो और कप्तान विराट कोहली ने नौ रनों का योगदान दिया। वेस्टइंडीज की ओर से केमार रोच ने चार, शेनन गेब्रियल ने तीन, रोस्टन चेज ने दो और कप्तान जेसन होल्डर ने एक विकेट लिया।