स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

IND vs WI : कोहली की 'विराट' पारी से मिली भारत को बड़ी जीत, विंडीज को 6 विकेट से रौंदा

Mazkoor Alam

Publish: Dec 06, 2019 19:01 PM | Updated: Dec 07, 2019 09:34 AM

Cricket

भारत की ओर से इस जीत में विराट कोहली के अलावा केएल राहुल ने बड़ी भूमिका निभाई। लोकेश ने भी लगाया अर्धशतक।

हैदराबाद : शुक्रवार को राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए पहले टी-20 मैच में विराट कोहली के नाबाद 94 रन की पारी के मदद से विंडीज को हराकर तीन टी-20 मैच की सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली। इससे पहले भारत ने टॉस जीतकर विंडीज को पहले बल्लेबाजी के लिए बुलाया। विंडीज की टीम ने शिमरॉन हेटमायर के तेज अर्धशतक की मदद से निर्धारित 20 ओवर में पांच विकेट के नुकसान पर 207 रनों का विशाल स्कोर खड़ाकर भारत के सामने जीत के लिए 208 रनों की चुनौती रखी। इसके जवाब में भारत ने विराट कोहली और केएल राहुल की शानदार अर्धशतकीय पारी की मदद से विंडीज को छह विकेट की करारी मात दे दी। भारत की यह लक्ष्य का पीछा करते हुए सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले 2007 में भारत ने श्रीलंका के खिलाफ 207 रनों के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया था।

राहुल और विराट दबदबा बनाकर खेले

विंडीज की तरफ से जीत के लिए मिले 208 रनों के विराट लक्ष्य के सामने भारत का पहला विकेट रोहित शर्मा के रूप में जल्दी गिर गया। इसके बाद केएल राहुल (62) और कप्तान विराट कोहली ने 10.1 ओवर में लगभग 10 रन प्रति ओवर की तूफानी गति से पूरे 100 रन की साझेदारी कर भारत को जीत की राह पर डाल दिया। 130 रनों के स्कोर पर राहुल आउट होकर पैवेलियन लौट गए तो उनके बाद आए ऋषभ पंत ने 9 गेंद पर 18 रन बनाकर रन गति को नीचे नहीं गिरने दिया। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए श्रेयस अय्यर कुछ खास नहीं कर सके और जल्दी आउट होकर पैवेलियन लौट गए। इसके बाद कोहली ने शिवम दुबे के साथ मिलकर भारत को पांच विकेट की जीत दिला दी।

विंडीज की ओर से खारी पियरे ने दो विकेट लिए, वहीं शेल्डन कॉट्रेल और कप्तान कीरोन पोलार्ड ने एक-एक विकेट लिया।

विंडीज के सभी बल्लेबाजों ने दिया योगदान

लेंडल सिमंस के रूप में विंडीज का पहला विकेट हालांकि जल्दी गिर गया, लेकिन इसके बाद ईविन लुइस (40) और ब्रैंडन किंग (31) ने मिलकर टीम को मजबूत स्थिति तक ले गए। लुइस ने महज 17 गेंदों पर तीन चौके और चार छक्के जड़े तो किंग ने 23 गेंद की पारी में तीन चौके और एक सिक्स लगाया। इन दोनों के आउट होने के बाद आए बल्लेबाज शिमरॉन हेटमायर (56) और कप्तान कीरोन पोलार्ड (37) ने भी तेज और अच्छी पारी खेली। हेटमायर ने 41 गेंद की पारी में दो चौके और चार छक्के लगाए तो पोलार्ड ने 19 गेंद पर एक चौके और चार छक्के जड़े। इसके बाद हरफनमौला जेसन होल्डर ने महज नौ गेंदों पर तेज 23 रन की पारी खेल विंडीज को दो सौ के पार पहुंचा दिया। होल्डर ने अपनी पारी के दौरान एक चौके और दो छक्के लगाए।

भारतीय गेंदबाजों की हुई जमकर पिटाई

भारत की तरफ से युजवेंद्र चहल ने दो विकेट लिए, जबकि वाशिंगटन सुंदर, दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार को एक-एक विकेट मिला। इस मैच में विंडीज के बल्लेबाजों ने सारे भारतीय गेंदबाजों की जमकर पिटाई हुई। सबसे ज्यादा मार दीपक चाहर को लगी। उन्होंने महज चार ओवर में 56 रन लुटा दिए।

विश्व कप के बाद पहली बार मैदान पर उतरे भुवनेश्वर

टीम इंडिया ने अंतिम एकादश में भुवनेश्वर कुमार को जगह दी है। बता दें कि चोट के कारण भुवनेश्वर आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के बाद से ही विश्व कप से बाहर चल रहे थे। भारतीय एकादश में एक बार फिर संजू सैमसन को जगह नहीं मिली है। उन्हें, मोहम्मद, कुलदीप यादव और मनीष पांडेय को एकादश में शामिल नहीं किया गया है। वहीं विंडीज टीम के कप्तान कीरन पोलार्ड ने निकोलस पूरन और कीमो पॉल को अंतिम एकादश में शामिल नहीं किया है।

ऐसी है दोनों एकादश

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शिवम दुबे, रविंद्र जडेजा, वाशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, दीपक चहर और भुवनेश्वर कुमार।

वेस्टइंडीज : कीरन पोलार्ड (कप्तान), शेल्डन कॉटरेल, शिमरन हिटमायर, जेसन होल्डर, ब्रेंडन किंग, इविन लुइस, खारी पीयरे, दिनेश रामदीन, लेंडल सिमंस, हेडन वॉल्श जूनियर और किसरिक विलियम्स।

[MORE_ADVERTISE1]