स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

महान क्रिकेटर मुथैया मुरलीधरन बन सकते हैं गर्वनर, श्रीलंका सरकार उत्तरी प्रांत की थमा सकती है जिम्मेदारी

Mazkoor Alam

Publish: Nov 21, 2019 21:49 PM | Updated: Nov 21, 2019 21:51 PM

Cricket

खबरों के मुताबिक सरकार ने इस बात का फैसला ले लिया है, लेकिन अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

कोलंबो : दुनिया के महानतम क्रिकेटरों में शुमार श्रीलंका के ऑफ स्पिनर मुथैया मुरलीधरन अब नई पारी खेल सकते हैं। ऐसी खबरें आ रही है कि श्रीलंका सरकार उन्हें उत्तरी प्रांत का गवर्नर बना सकती है। तमिल समुदाय से संबंध रखने वाले मुथैया मुरलीधरन को श्रीलंका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे इस समुदाय से बेहतर संबंध बनाने के लिए उन्हें यह पद ऑफर कर सकते हैं।

युवराज सिंह ने किया भविष्य की योजना का खुलासा, कोच की भूमिका में आ सकते हैं नजर

गोटाबाया ने ही लिट्‌टे का किया था खात्मा

गोटाबाया राजपक्षे 2005 से 2015 के बीच जब श्रीलंका सरकार में रक्षा मंत्री थे तब उन्होंने अभियान चलाकर तमिल संगठन लिट्टे का खात्मा किया था। लिट्टे के खिलाफ चलाए गए उनके अभियान का ही नतीजा था कि आम चुनाव में तमिल अल्पसंख्यकों का साथ नहीं मिला था। इस समुदाय ने राजपक्षे पर युद्ध अपराध का आरोप लगाया था।

धोनी नहीं ले रहे हैं क्रिकेट से संन्यास, आईपीएल में खेलेंगे सीएसके की तरफ से

तमिल बहुल इलाका है उत्तरी प्रांत

उत्तरी प्रांत तमिल बहुल इलाका है। खबरों के मुताबिक, इस वजह से राजपक्षे मुरलीधरन को इस राज्य की जिम्मेदारी सौंपना चाहते हैं। हालांकि अभी इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। बता दें कि मुथैया मुरलीधरन टेस्ट क्रिकेट में 800 विकेट लेने वाले विश्व के इकलौते खिलाड़ी हैं। वह मूलत: भारतीय तमिल हैं, जो श्रीलंका के कैंडी में रहते हैं। उन्होंने इस चुनाव में गोटाबाया का खुलकर समर्थन किया था। इस वजह से तमिल समुदाय के लोग भी मुरलीधरन से खुश नहीं बताए जा रहे हैं।

[MORE_ADVERTISE1]