स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

IND vs NZ : टीम इंडिया इतिहास रचने के करीब, भारतीय खिलाड़ियो का फॉर्म कीवीज के लिए बनी मुसीबत

Mazkoor Alam

Publish: Jan 28, 2020 17:12 PM | Updated: Jan 29, 2020 07:59 AM

Cricket

Team India तीसरे टी-20 मैच को जीतकर यहीं पर सीरीज निबटाना चाहेगी। पांच मैच की सीरीज में लगातार दो मैच जीतकर 2-0 से है आगे है भारत।

हैमिल्टन : टीम इंडिया (Team India) ने न्यूजीलैंड (New Zealand Cricket Team) के खिलाफ खेली जा रही पांच मैचों की टी-20 सीरीज के पहले दो मैचों में लगातार जीत हासिल कर सीरीज में 2-0 की बढ़त ले रखी है और उसका लक्ष्य बुधवार को यहां सेडान पार्क में खेले जाने वाले मैच को जीतकर सीरीज को यहीं निबटाना होगा तो वहीं कीवी टीम इस मैच को जीतकर सीरीज में वापसी करना चाहेगी। उसका लक्ष्य यह मैच जीतकर सीरीज में अपनी उम्मीदों को जिंदा रखने का होगा।

एक और इतिहास बदलने की कोशिश

इस सीरीज से पहले तक टीम इंडिया न्यूजीलैंड से कभी लगातार दो टी-20 मैच नहीं जीती थी, लेकिन ऑकलैंड में खेले गए दोनों मैचों को शानदार तरीके से जीतकर टीम इंडिया ने इतिहास बदल दिया है। अब उसका लक्ष्य कीवी टीम को उसके घर में हराकर सीरीज जीतना होगा। टीम इंडिया अभी तक एक बार भी ऐसा करने में सक्षम नहीं हुई है। टीम इंडिया का यह फॉर्म बरकरार रहा तो यह ज्यादा मुश्किल नजर नहीं आता। वह हैमिल्टन में खेले जाने वाले तीसरे टी-20 मैच को जीतकर यह कारनामा कर सकती है।

महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास पर कपिल ने कहा, एक न एक दिन तो यह होना ही है

भारतीय बल्लेबाजों ने किया है अच्छा प्रदर्शन

इस सीरीज के पहले दो मैचों में भारतीय बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया है। पहले मैच में टीम इंडिया के कप्तान समेत इस सीरीज में विकेटकीपर बल्लेबाज की दोहरी जिम्मेदारी निभा रहे केएल राहुल और श्रेयस अय्यर ने अच्छी बल्लेबाजी की थी तो वहीं अय्यर और राहुल अपने इस फॉर्म को दूसरे मैच तक भी ले गए। राहुल ने दोनों मैचों अर्धशतक लगाया। इसके अलावा शिवम दुबे और मनीष पांडेय ने भी बल्लेबाजी के लिए संक्षिप्त मौके का बेहतरीन फायदा उठाया है। वहीं दूसरी तरफ न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने पहले मैच में तो अच्छी बल्लेबाजी की थी, लेकिन दूसरे मैच में वह दम नहीं दिखा पाए। पहले मैच में बेहतरीन बल्लेबाजी करने वाले कप्तान केन विलियमसन नहीं चले तो ओपनर मार्टिन गुप्टिल और कोलिन मुनरो पहले मैच वाला प्रदर्शन बरकरार नहीं रख पाए। हालांकि दूसरे मैच में भी ये दोनों लय में दिखे। हां, दूसरे मैच में विकेटकीपर बल्लेबाज डेविड सीफर्ट ने जरूर अच्छी बल्लेबाजी की, लेकिन उन्हें अन्य बल्लेबाजों से साथ नहीं मिला। कीवी टीम के लिए यह चिंता की बात है। अनुभवी बल्लेबाज रास टेलर भी दूसरे मैच में पहले टी-20 वाला दम नहीं दिखा पाए। अगर कीवी टीम को वापसी करनी है तो वह उम्मीद करेंगे कि उसके बल्लेबाज निरंतरता दिखाएं।

भारतीय गेंदबाज लौटे लय में

ऑकलैंड के छोटे मैदान पर पहले मैच में भारतीय गेंदबाजों को काफी मार लगी थी, लेकिन दूसरे मैच में उन्होंने शानदार वापसी करते हुए कसी हुई गेंदबाजी की थी। टीम इंडिया की तरफ से शार्दुल ठाकुर ही ऐसे गेंदबाज रहे, जो दूसरे मैच में भी अच्छी गेंदबाजी नहीं कर पाए। इसलिए उनकी जगह उम्मीद की जा रही है कि उन्हें नवदीप सैनी से रिप्लेस किया जाए, लेकिन कप्तान विराट कोहली ने संकेत दिए हैं कि वह विजयी संयोजन के साथ छेड़छाड़ नहीं करना चाहते। ऐसे में हो सकता है कि अंतिम एकादश में उनकी जगह बची रह जाए। दूसरी तरफ कीवी टीम की बात करें तो पहले मैच की तरह दूसरे मैच में भी कीवी गेंदबाज भारतीय बल्लेबाजों पर प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे। हां टिम साउदी ने जरूर अच्छी गेंदबाजी की, लेकिन यह नाकाफी साबित हुआ। ऐसे में वह दूसरे मैच में अपनी गेंदबाजी में बदलाव कर स्कॉट कुग्गेलेजिन को मौका दे सकती है।

श्रेयस अय्यर ने अपनी कामयाबी का श्रेय कोहली को दिया, बोले- कप्तान से सीखा

दोनों टीमें इस प्रकार हैं

भारत : रोहित शर्मा, केएल राहुल (विकेटकीपर), विराट कोहली (कप्तान), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडेय, शिवम दुबे, रविंद्र जडेजा, नवदीप सैनी, मोहम्मद शमी, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, शार्दुल ठाकुर, ऋषभ पंत, संजू सैमसन, कुलदीप यादव और वाशिंगटन सुंदर।

न्यूजीलैंड : मार्टिन गुप्टिल, कोलिन मुनरो, केन विलियमसन (कप्तान) रॉस टेलर, टीम सीफर्ट(विकेटकीपर), कोलिन डी ग्रैंडहोम, ईश सोढ़ी, मिचेल सेंटनर, टिम साउदी, स्कॉट कुग्गेलेजिन, ब्लेयर टिकनेर, हमिश बेनेट और डेरिल मिशेल।

[MORE_ADVERTISE1]