स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पति ने पत्नी की धारदार हथियार से गला रेतकर की हत्या, खुद भी कुंड में कूदा

kamlesh sharma

Publish: Sep 12, 2019 21:21 PM | Updated: Sep 12, 2019 21:21 PM

Churu

गांव मुंदीबास में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी। घटना के बाद स्वयं पति कीटनाशक पीकर खेत में बने पानी के कुण्ड में कूद गया

सादुलपुर। गांव मुंदीबास में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी। घटना के बाद स्वयं पति कीटनाशक पीकर खेत में बने पानी के कुण्ड में कूद गया, लेकिन पड़ोसियों ने उसे बचा लिया। उपचार के लिए चूरू लेकर पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने गंभीर हालते देखते हुए उसे बीकानेर रेफर किया है।

जानकारी के अनुसार गांव मुंदीबास निवासी बेगाराम गुरुवार दोपहर को अपने खेत में अपनी पत्नी सावित्री उम्र 40 वर्ष के साथ काम कर रहा था तथा दोनों में किसी बात को लेकर अनबन भी चल रही थी। इसी बात से नाराज होकर बेगाराम ने दांती से पत्नी का गला रेत दिया। जिसके कारण उसकी मौके पर ही मौत हो गई। बाद में बेगाराम ने खेत में रखे कीटनाशक को पीकर आत्महत्या की नियत से पानी के कुण्ड में कूद गया तथा आवाज भी लगाई।

आवाज सुनकर खेत में काम कर रहे उसके परिजन एवं अन्य लोगों ने कुण्ड से बेगाराम को बाहर निकाला तथा चूरू अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां उसे चिकित्सकों ने बीकानेर रेफर कर दिया है।

पता चला है कि आरोपी बेगाराम अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह करता था। हालांकि इस संबंध में डीएसपी महावीरप्रसाद शर्मा का कहना है कि जांच के बाद ही वास्तविक स्थिति का खुलासा होगा। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची एवं घटना का मौका-निरीक्षण किया तथा मृतका का शव मोर्चरी रूम में रखवाया है। पुलिस मृतका का पोस्टमार्टम शुक्रवार को करवाएगी।

डीएसपी महावीरप्रसाद शर्मा ने बताया कि तारानगर थाना के गांव गाजूवास गडाणा निवासी बलराम ने मामला दर्ज करवाकर बताया कि उसकी बहन सावित्री की शादी लगभग 14 वर्ष पूर्व गांव मुंदीबास निवासी बेगाराम के साथ हुई थी। उसकी बहन को एक पुत्र एवं एक पुत्री है तथा पुत्र की बीमारी के कारण सालभर पहले मौत हो गई। गांव के ही सतवीर नेहरा को फोन कर बताया कि उसकी की हत्या कर दी गई। सूचना पर वह मौके पर पहुंची तो देखा कि उसकी बहन का शव बाजरे की फसल में पड़ा हुआ है तथा शरीर पर अनेक चोट के निशान थे।