स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वीडियो फुटेज देख पुलिस ने किया किसको नामजद

Nilesh Kumar Kathed

Publish: Oct 09, 2019 23:45 PM | Updated: Oct 09, 2019 23:45 PM

Chittorgarh


मंदिर के पास पशु बलि मामले में दो अन्य लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट
पुलिस ने किया मामले में अब तक पांच आरोपियों को नामजद
- पीपुल्स फॉर एनीमल्स ने की कार्रवाई की मांग


चित्तौडग़ढ़/आकोला. जिले के आकोला क्षेत्र के ताणा गांव में नवरात्र समापन पर नवमी के दिन ७ अक्टूबर को पशुबलि के मामले में पुलिस ने वायरल हुए वीडियो के आधार पर दो अन्य लोगों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज किया है। अब तक मामले में कुल पांच लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की गर्ई है। पुलिस वायरल वीडियो को मुख्य सबूत मान जांच आगे बढ़ा रही है। आकोला थानाधिकारी रमेश मीणा ने बताया कि वीडियो फुटेज देखने के बाद इस्तगासे के जरिये दो ओर लोगों अंबालाल पुत्र गोपाल खटीक एवं दुर्गाशंकर पुत्र पुष्कर लौहार के खिलाफ सार्वजनिक स्थानों पर पशुबलि देने का मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में इस्तगासे के जरिये पशु पक्षी वध निषेध अधिनियम-१९७५ के तहत अब तक कुल पांच लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज हो गई है। पुलिस वायरल हुए वीडियो फुटेज के आधार पर घटनाक्रम में शामिल अन्य लोगों को भी चिह्ति करने का प्रयास कर रही है। गौरतलब है कि नवमी पर ताणा गांव के चामुंडा माता मंदिर के नजदीक पहाड़ी पर सैकड़ो लोगों की मौजूदगी में सार्वजनिक रूप से पशु की बलि दी गई थी। इस घटनाक्रम के वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस व प्रशासन ने हरकत में आकर कानूनी कार्रवाई शुरू की।

पशु बलि देने वालों को करें गिरफ्तार करें
चित्तौडग़ढ़. पशु अधिकारों के लिए कार्यरत संस्था पीपुल फॉर एनीमल्स के प्रदेश प्रभारी बाबूलाल जाजू ने चित्तौडग़ढ़ जिले के ताणा गांव की पहाड़ी पर चामुण्डा माता मंदिर के पास सार्वजनिक रूप से कुछ व्यक्तियों द्वारा पशु की बलि देने के मामले में चित्तोडग़ढ़ के पुलिस अधीक्षक को ई-मेल एवं रजिस्टर्ड डाक से प्राथमिकी दर्ज कराते हुए पशु बलि देने वालों को गिरफ्तार करने की मांग की है। जाजू ने बताया कि पुलिस की मौजूदगी में पशुबलि की घटना शर्मनाक व निंदनीय है। उन्होंने पुलिस अधीक्षक से राजस्थान पशु और पक्षी प्रतिषेध अधिनियम 1975 एवं आम्र्स एक्ट के तहत अपराधियों के विरूद्ध कार्यवाही करने की मांग की है। जाजू ने मामले से एनिमल वेलफेयर बोर्ड ऑफ इण्डिया व पीएफए की राष्ट्रीय अध्यक्षा मेनका गांधी को भी जानकारी दी है।