स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बिस्तर-तकिए गंदे देखकर ये क्या कह गए डीआरएम, आप भी जानिए

Jitender Saran

Publish: Dec 07, 2019 12:23 PM | Updated: Dec 07, 2019 12:23 PM

Chittorgarh

पश्चिम रेलवे के रतलाम मंडल डीआरएम विनित कुमार गुप्ता ने चित्तौडग़ढ़ रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने यहां लोको पायलट को ठहराने एवं उनके भोजन की व्यवस्था का भी जायजा लिया। उन्होंने लोको पायलट गेस्ट हाऊस में सफाई नहीं होने व भोजन के प्रति रेलवे कर्मचारियों की शिकायतों को गंभीर मानते हुए स्थानीय अधिकारियों को खरी-खरी सुनाई।

चित्तौडग़ढ़.
गुप्ता रतलाम से यहां पर एक दर्जन अधिकारियों के साथ पहुंचे। प्लेटफार्म नंबर दो से होते हुए वे प्लेट फार्म नंबर पांच पर पहुंचे। उन्होंने रेलवे के लोको पायलट परिसर में एक-एक कक्ष का निरीक्षण किया। इस दौरान एक कक्ष में लगे बिस्तर एवं तकिए आदि गंदे थे। जिस पर उन्होंने कहा कि साफ सफाई पूरी नहीं है। इसका ध्यान रखा जाना चाहिए। इसके बाद उन्होंने यहां पर बने स्नानघर व शौचालय का निरीक्षण किया। कक्ष में आराम कर रहे लोको पायलट से भी व्यवस्था के बारे में जानकारी ली।
मंगवाई शिकायत पुस्तिका
गुप्ता ने वहां पर शिकायत पुस्तिका मंगवाई। उन्होंने पुस्तिका में देखा तो कई लोगों ने उसमें अपनी ओर से शिकायत दर्ज कर रखी थी। जिसे गंभीरता से लेते हुए कहा कि कोई इतना समय क्यों बर्बाद करेगा। कोई ना कोई समस्या होगी जब ही तो यहां पर शिकायत दर्ज कर रहा है। इसे गंभीरता से लें और पुन: निस्तारण का भी इंद्राज किया जाए।
देखी राहत एवं बचाव की व्यवस्था
गुप्ता ने दुर्घटना के दौरान राहत कार्य के लिए वहां खड़े वाहन का भी निरीक्षण किया। इस दौरान पटरी से डिब्बे उतरने के दौरान जेक से उसे चढ़ाकर किस तरह से पटरी पर लाने और अन्य व्यवस्थाओं को भी देखा। गुप्ता के साथ सीनियर डीओएम विपुल सिंगल, सीनियर डीसीएम सुनील मीणा, चित्तौडग़ढ़ स्टेशन अधीक्षक सुभाष पुरोहित सहित रतलाम से आए कई अधिकारी एवं कर्मचारी भी मौजूद थे।
ली प्याज पर चुटकी
जब भोजन शाला में कर्मचारी ने हर बार आलू मटर की सब्जी देने की बात कही तो डीआरएम गुप्ता ने चुटकी लेते हुए कहा कि अभी तो सब सब्जियां मिल रही है। केवल प्याज जरूर महंगा है।
साहब और तो ठीक है हर बार आलू मटर ही बनते है
इसी दौरान गुप्ता ने यहां पर चल रही भोजनशाला का भी निरीक्षण किया। यहां पर अजमेर से आये गुड्स गार्ड हेमन्त कुमार भोजन कर रहे थे, जिनेसे खाने के बारे में जानकारी ली। इस पर हेमंत ने गुप्ता से कहा कि साहब और तो ठीक है लेकिन यहां पर जब भी आता हूं तो आलू मटर की सब्जी ही मिलती है। कहने पर कहते है कि बाजार में सब्जियां नहीं आ रही है। इसके बाद गुप्ता ने स्थानीय अधिकारियों से पूछा कि यहां पर कोई मेन्यू तो बना रखा होगा।

[MORE_ADVERTISE1]