स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हारी हूं ना हारुंगी में बेटी हिन्दुस्तान की

Vijay

Publish: Sep 12, 2019 00:01 AM | Updated: Sep 12, 2019 00:01 AM

Chittorgarh

चित्तौडग़ढ़/डूंगला. द्वारिका धाम किशन करेरी मे गणपति नवयुवक मंडल की ओर से झलझूलनी एकादशी एवं गणेशोत्सव के तहत द्वारिकाधीश मंदिर स्थल पर कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि जिला परिषद सदस्य हनुमंत सिंह थे।

चित्तौडग़ढ़/डूंगला. द्वारिका धाम किशन करेरी मे गणपति नवयुवक मंडल की ओर से झलझूलनी एकादशी एवं गणेशोत्सव के तहत द्वारिकाधीश मंदिर स्थल पर कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि जिला परिषद सदस्य हनुमंत सिंह थे। अध्यक्षता ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष उत्सव भानावत ने की। आगाज एकता आर्य की वीणा वन्दना से हुआ। इसके बाद हरिश जणवा ने शहीद भगत सिंह पर मेरी शादी मौत से करा दो कविता पाठ किया। अंशुमन आजाद ने ओजस्वी कश्मीर की लाज बचाने गुजराती बेटा आया है कविता सुनाकर वाहवाही लूटी। कमलेश केकड़ी ने हास्य व्यंग्य के साथ चश्मे पर बोल कर खूब हंसाया। दीपशिखा रावल ने देशभक्ति से ओतप्रोत रचनाएं प्रस्तुत की जिसमें धारा 370 भी छाया रहा। उन्होंने भारत का बच्चा बच्चा अभिनन्दन बन जाएगी पर तालियां बटोरी। मनोहर श्रीमाली ने वर्तमान राजनीति में महिलाओं के आगे आने पर व्यंग्य किए। एकता आर्य ने शृंगार व प्रेम रस की कविताएं सुनाकर युवाओं को रिझाया वहीं तेरी चाहत के नजराने मुझे अनमोल करते हैं तथा हारी हूं ना हारुंगी में बेटी हिन्दुस्तान की पर खूब वाहवाही लूटी। हिम्मत सिंह उज्जवल ने हास्य के साथ देशभक्ति की कविताएं पेश की। विजय विद्रोही ने संचालन कर भरपूर मनोरंजन किया। तड़के तक दो दौर में चले कवि सम्मेलन में कवियों ने काव्य पाठ कर लोगों को गुदगुदाया। इससे पूर्व शुरू में अतिथियों का स्वागत किया गया। शुरुआती संचालन रवि श्रीमाली ने किया।