स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अवकाश के दिन बाबू तो कहीं एक अधिकारी के भरोसे रहे दफ्तर

kalulal lohar

Publish: Sep 22, 2019 23:06 PM | Updated: Sep 22, 2019 23:06 PM

Chittorgarh

जिला मुख्यालय पर सोमवार को मंत्रीगण एवं प्रभारी सचिव की बैठक तथा जनसुनवाई के मद्देनजऱ जिले के सभी सरकारी एवं अद्र्ध सरकारी विभागों के कार्यालय शनिवार व रविवार को अवकाश के दिन भी सामान्य दिनों की तरह खुले रखने के आदेश जिला कलक्टर ने दिए थे।

- कागजों में रह गए जिला कलक्टर के आदेश
-अवकाश के दिन सरकारी कार्यालय खोलने की हुई खानापूर्ति
चित्तौडग़ढ़. जिला मुख्यालय पर सोमवार को मंत्रीगण एवं प्रभारी सचिव की बैठक तथा जनसुनवाई के मद्देनजऱ जिले के सभी सरकारी एवं अद्र्ध सरकारी विभागों के कार्यालय शनिवार व रविवार को अवकाश के दिन भी सामान्य दिनों की तरह खुले रखने के आदेश जिला कलक्टर ने दिए थे। रविवार को दोपहर बाद पत्रिका ने कई कार्यालयों की पड़ताल की तो जिला कलक्टर के आदेशों की अवहेलना साफ तौर पर नजर आई।
जिला कलक्टर ने शुक्रवार रात आदेश जारी कर जिले के सभी अधिकारियों व कार्मिकों को पाबन्द किया था कि साप्ताहिक अवकाश के दिन सामान्य दिनों की तरह दफ्तर खुले रखें। जिला मुख्यालय पर प्रभारी मंत्री एवं प्रभारी सचिव की अध्यक्षता में विभागीय योजनाओं की प्रगति के संबंध में बैठक एवं जनसुनवाई की तैयारी इस दौरान करनी थी। आदेश में कहा गया है कि राजकीय अवकाश के दौरान उनके कार्यालय में पदस्थापित कोई भी अधिकारी कर्मचारी अपने मुख्यालय से बाहर के लिए प्रस्थान नहीं करेगा एवं अपने मोबाइल फोन को हर समय चालू स्थिति में रखेगा। यदि कोई अधिकारी स्थानान्तरणाधीन है तो भी वह बिना अनुमति के कार्यमुक्त नहीं होगा।

शिक्षा विभाग कार्यालय
जिला मुख्यालय पर स्थित शिक्षा विभाग के चारों कार्यालयों में जिला कलक्टर के आदेश की अवहेलना होती देखी गई। जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय कार्यालय के कमरों से कर्मचारी नदारद थे लेकिन लाइटें और पंखे चल रहे थे। इस कार्यालय में एक अधिकारी व दो अन्य कर्मचारी मौजूद थे। डीईओ प्रारंभिक कार्यालय में तीन कर्मचारी मौजूद थे। ब्लॉक मुख्य शिक्षा अधिकारी कार्यालय बाबूओं के भरोसे चल रहा था। इस कार्यालय दो कर्मचारी मौजूद थे। मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय (समग्र शिक्षा अभियान) में कहने के लिए भले ही कई अधिकारी लगे हुए हों, लेकिन रविवार को यहां पर सिर्फ एक कर्मचारी मौजूद था।
कार्यालयों पर लगा ताला

कार्यालय उपनिदेशक कृषि (विस्तार)
पंचायत समिति परिसर में स्थित कार्यालय उप निदेशक कृषि (विस्तार) व कार्यालय सहायक निदेशक कृषि (विस्तार) कार्यालय के बाहर ताला लगा हुआ था।

कार्यालय में छाया सन्नाटा
सीएमएचओ कार्यालय में सन्नाटा छाया हुआ था। वहां एक भी अधिकारी व कर्मचारी मौजूद नहीं था। वहां पर मौजूद सहायक कर्मचारी ने बताया कि सीएमएचओ तीन चार बजे तक यहीं थे।