स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

50 लाख दो और अपने भाई को ले जाओ नहीं तो... 6 लाख के इनामी डकैत बबुली कोल का बीहड़ से फरमान

Akansha Singh

Publish: Aug 18, 2019 07:58 AM | Updated: Aug 18, 2019 07:58 AM

Chitrakoot

दस्यु सरगना ने अपह्रत के परिजनों से 50 लाख की फिरौती मांगी है

चित्रकूट: डकैतों के सफाए की कसम खाकर ताल ठोंकने वाली पुलिस को बीहड़ में सक्रीय 6 लाख के इनामी कुख्यात दस्यु बबुली कोल ने खुली चुनौती देते हुए अपहरण की वारदात को अंजाम देकर सनसनी फैला दी है. दस्यु सरगना ने अपह्रत के परिजनों से 50 लाख की फिरौती मांगी है. परिजनों ने दस्यु सरगना बबुली कोल और उसके दाहिने हांथ खूंखार डकैत लवलेश कोल के खिलाफ थाने में अपहरण की एफआईआर दर्ज कराई है. हालांकि अभी तक पुलिस इस मामले में दस्यु गिरोह का हांथ होने की सम्भावना से इंकार कर रही थी.

गैंग ने किया है खोवा व्यापारी का अपहरण

घटना जनपद के मानिकपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत दस्यु प्रभावित गांव निही चिरैया की है. उक्त गांव निवासी किसान बृजमोहन पाण्डेय खोवा के बड़े व्यापारी हैं और लगभग 100 बीघे जमीन के कास्तकार भी हैं. गुरुवार की रात वे अपनी पत्नी के साथ अपने खेत की रखवाली कर रहे थे कि इसी दौरान बबुली कोल गैंग के डकैत मय असलहा आए और बंदूक की नोक पर जबरन उन्हें अपने साथ ले गए उनका अपहरण कर लिया गया. इस दौरान जब किसान की पत्नी ने विरोध किया तो डकैतों ने पति को जान से मारने की धमकी दी.

मांगी गई 50 लाख की फिरौती

इधर मामले की सूचना पर तफ़्तीश करने पहुंची पुलिस ने घटना में पहले तो डकैतों का हांथ होने से इंकार कर दिया लेकिन इलाकाई चर्चा के मुताबिक वारदात को अंजाम डाकुओं ने ही दिया है और जब शनिवार को अपह्रत किसान के परिजनों ने मानिकपुर थाने में दस्यु सरगना बबुली कोल व उसके खास लवलेश कोल के खिलाफ अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई तो पुलिस की ना नुकुर पर पानी फिर गया. स्पष्ट हो गया कि दस्यु गैंग ने किसान का अपहरण किया है. अपह्रत किसान के भाई के मुताबिक उनके मोबाईल पर डकैतों का फोन आया और कहा गया कि 50 लाख लेकर आओ और अपने भाई को ले जाओ. किसान के भाई उन मोबाईल नम्बरों की जानकारी भी दी है जिससे डकैतों ने फोन किया था. किसान के परिजनों में किसी अनहोनी की संभावना को लेकर दहशत व चिंता घर कर गई है.

इलाके में दहशत

डकैतों की इस वारदात से पाठा में दहशत के बादल छा गए हैं. दस्यु प्रभावित इलाकों में दिन में भी सन्नाटे की परछाई देखी जा सकती है. किसान के गांव में खौफ छाया हुआ है. ग्रामीण पीड़ित परिवार को दहशत के बीच ढांढस बंधा रहे हैं. उधर पुलिस बीहड़ में सर्च ऑपरेशन चलाते हुए गैंग व अपह्रत की लोकेशन ट्रेस करने में लगी है. पड़ोसी राज्य मध्य प्रदेश की पुलिस भी अपने इलाके में मामले को लेकर सक्रीय है.