स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बीजेपी का बड़ा नेता बनकर रौब दिखाता था शातिर लुटेरा पुलिस ने किया गिरफ्तार तो हुआ चौंकाने वाला खुलासा

Akansha Singh

Publish: Aug 10, 2019 18:22 PM | Updated: Aug 10, 2019 18:22 PM

Chitrakoot

खुद को भाजपा का बड़ा नेता बताने वाले शातिर लुटेरों के सरगना को पुलिस ने उसके आधा दर्जन साथियों के साथ गिरफ्तार कर लिया

चित्रकूट: खुद को भाजपा का बड़ा नेता बताने वाले शातिर लुटेरों के सरगना को पुलिस ने उसके आधा दर्जन साथियों के साथ गिरफ्तार कर लिया. पकड़े गए अभियुक्त की बीजेपी के कई बड़े दिग्गज नेताओं के साथ की फोटो भी सामने आई है. अभियुक्तों के पास से असलहे बोलेरो व स्कॉर्पियो बरामद हुई है. स्कॉर्पियो सरगना की है जिसमें भाजपा का झंडा लगा हुआ था. सरगना खुद को पार्टी का बड़ा नेता बताते हुए इलाके में रौब झाड़ता था. गिरफ्तार किए गए अभियुक्तों के खुलासों ने पुलिस को भी सन्न कर दिया है.

मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने किया गिरफ्तार

जनपद के मऊ थाना क्षेत्र में आधा दर्जन शातिर लुटेरों को उस समय पुलिस ने धर दबोचा जब वे क्षेत्र में स्थित कोऑपरेटिव बैंक में डकैती की योजना बना रहे थे. पुलिस के मुताबिक मुखबिर से सूचना मिली एक स्कॉर्पियो में मौजूद कि करीब आधा दर्जन सङ्गदिग्ध लोग किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं. सूचना पर हरकत में आई पुलिस ने छापा मारते हुए मौके से स्कॉर्पियो में मौजूद सभी 6 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ के दौरान उस समय पुलिस के होश उड़ गए जब उसे जानकारी मिली कि अभियुक्त इलाके में स्थित कोऑपरेटिव बैंक में डकैती डालने की योजना बना रहे थे. साथ ही क्षेत्र के बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम को भी लूटने की योजना थी. अभियुक्तों के पास व उनकी निशानदेही पर एक स्कॉर्पियो एक बोलेरो पिस्टल तमंचा व कारतूस गैस कटर आदि बरामद हुए हैं.

सरगना बताता है बीजेपी का बड़ा नेता कई दिग्गजों के साथ है फोटो

गिरफ्तार किए गए लुटेरों का सरगना विनोद कुमार चतुर्वेदी उर्फ सीटू खुद को भाजपा का बड़ा नेता बताया करता था. पार्टी के कई बड़े दिग्गज नेताओं के साथ उसकी फोटो उसके सोशल मीडिया पेज पर अक्सर वायरल होती रहती थीं. सरगना जनपद के मऊ थाना क्षेत्र का ही रहने वाला है. इसलिए स्थानीय लोगों को भी उसके इस आपराधिक रैकेट का पता नहीं चल पा रहा था.

दी गई थी हत्या की सुपारी

पुलिस के मुताबिक लुटेरों के सरगना ने इलाके के ही एक युवक की हत्या की सुपारी भी दे रखी थी. थानाध्यक्ष मऊ अरुण कुमार पाठक ने बताया कि सरगना सीटू ने क्षेत्र के ही एक युवक से लाखों रुपये उधार लिए थे. रुपये वापस न करना पड़े इसलिए उसने हत्या की सुपारी दी थी. सुपारी लेने वाला भी उन्ही गिरफ़्तार हुए 6 अभियुक्तों में शामिल है और दरोगा का लड़का है वो भी इसी इलाके का रहने वाला है