स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नियमों को ताक पर रख चले रहे स्कूल वाहन

SACHIN NARNAWRE

Publish: Oct 21, 2019 17:17 PM | Updated: Oct 21, 2019 17:17 PM

Chhindwara

कोयलांचल क्षेत्र में बेलगाम फर्राटे से दौड़ते स्कूल वाहन पर आखिर लगाम क्यों नहीं लग रही है यह समझ से परे है।

गुढ़ीअम्बाड़ा. कोयलांचल क्षेत्र में बेलगाम फर्राटे से दौड़ते स्कूल वाहन पर आखिर लगाम क्यों नहीं लग रही है यह समझ से परे है। नियम कानून को ताक पर रखकर क्षेत्र में संचालित किए जा रहे स्कूल वाहन में पालकों के आंखों के सामने ही इन स्कूल वाहनों में ठंूस-ठूंस कर क्षमता से ज्यादा बच्चों को बैठाया जाता हैै। उसके बावजूद भी पालक यह सब होता देख तमाशबीन बना रहता है।
गौरतलब है कि गुढ़ी अम्बाड़ा के अलावा जुन्नारदेव, चांदामेटा, परासिया क्षेत्र के अधिकतर प्राइवेट स्कूलों में दूरदराज से बच्चों को स्कूल लाने ले जाने के लिए बस या वेन का उपयोग किया जाता है, लेकिन इन वाहनों में सारे नियम कानून को धत्ता बताते हुए बच्चों को ठंूस-ठूंूस कर बैठाया जा रहा है। इसके अलावा खिड़कियों पर जाली नहीं होती, अग्निशमन यंत्र के साथ ही साथ फस्र्ट ऐड बॉक्स के अलावा बहुत से सुरक्षा के मापदंडों को ताक में रखकर इन स्कूल वाहनों दौड़ाया जा रहा है।
जिला पुलिस अधीक्षक के सख्त निर्देश के बाद भी क्षेत्र में स्कूल वैन संचालकों के कानों में जूं तक नहीं रेंगी और वह पुलिस को ठेंगा दिखाते हुए पुराने ढर्रे पर ही स्कूल वाहनों को सडक़ पर फर्राटे से दौड़ाते हुए नजर आते हैं। इसके पूर्व भी लापरवाही की वजह से कई हादसेे हो चुके हैं एवं भविष्य में भी इन छोटे-छोटे मासूमों के साथ कोई हादसे ना हो इसे देखते हुए क्षेत्र में फर्राटे से दौड़ते स्कूल वाहनोंं पर पुलिस महकमे को सख्ती से कार्रवाई करनी चाहिए।