स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जर्जर पानी टंकी की ध्वस्त

Sunil Lakhera

Publish: Jul 20, 2019 17:05 PM | Updated: Jul 20, 2019 17:05 PM

Chhindwara

वेकोलि प्रबंधन ने ढहा दिया

परासिया. बरकुही डाक्टर्स कॉलोनी स्थित जर्जर पानी टंकी को प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद वेकोलि प्रबंधन ने ढहा दिया।
गौरतलब है कि दशकों पूर्व पानी का ओवरहेड टेंक बनाया गया था लेकिन बाद में टंकी क्षतिग्रस्त होने के कारण अनुपयोगी हो गई। रखरखाव के अभाव में टंकी जर्जर हो गई और उसके गिरने की आशंका बढ़ गई। पिछले कई वर्षों से वार्डवासी टंकी को गिराने की मांग कर रहे थे यहां पर कालोनी के बच्चे खेलते है और पास से सडक़ होने से लोगों का आवागमन बना रहता है वहीं वेकोलि प्रबंधन रूचि नहीं ले रहा था। 21 जून को कांग्रेस प्रवक्ता वीर बहादुर सिंह और श्रम प्रकोष्ठ अध्यक्ष मुकेश जौहर सहित वार्डवासियों ने पानी की टंकी को ढहाने की मांग करते हुए एसडीएम एवं वेकोलि अधिकारी को ज्ञापन सौपा था जिसके बाद एसडीएम एवं तहसीलदार ने स्थल का निरीक्षण करने के बाद टंकी को जर्जर और आबादी के लिए खतरा पाया जिसके बाद वेकोलि को टंकी हटाने के लिए कार्रवाई के निर्देश दिये थे।
शाला में व्यवस्था बनाने की मांग- फ्लावरवेल स्कूल चांदामेटा में अनियमितताओं एवं अव्यवस्था को दूर करने की मांग पालकों ने प्रशासक तहसीलदार से पत्र लिखकर की है। पत्र में कहा गया है कि विगत कई वर्षोंं से स्कूल व्यवस्था ठप पड़ी है स्कूल मार्ग क्षतिग्रस्त है जिसके कारण बच्चों को परेशानी होती है, स्कूल के ऊपर गेट के पास लोहे की टंकी है जो क्षतिग्रस्त हो गई है जिसके नीचे बच्चे खेलते रहते है जिससे कभी भी दुर्घटना होने की आशंका बनी है। प्राचार्य नियुक्ति पर विलंब नहीं करते हुए शीघ्र नियुक्त किया जाये जिससे पढाई प्रभावित नहीं हो। कर्मचारियों का वेतन नियमानुसार किया जाये और शाला में अध्ययन पर विशेष ध्यान दिया जाए।