स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अतिवृष्टि से खेतों में लगी फसलें चौपट

Sanjay Kumar Dandale

Publish: Sep 22, 2019 17:26 PM | Updated: Sep 22, 2019 17:26 PM

Chhindwara

वर्तमान में निरंतर हो रही बारिश से किसानों के खेती में लगी फसलें अतिवृष्टि की वजह से खराब हो चुकी है। खेतों में पानी जमा हो गया है वहीं कृषकों की क्रय शक्ति बढ़ाने वाली गोभी की फसल भी बर्बाद हो चुकी है ।

छिंदवाड़ा/बड़चिचोली/ वर्तमान में निरंतर हो रही बारिश से किसानों के खेती में लगी फसलें अतिवृष्टि की वजह से खराब हो चुकी है। खेतों में पानी जमा हो गया है वहीं कृषकों की क्रय शक्ति बढ़ाने वाली गोभी की फसल भी बर्बाद हो चुकी है ।
किसान अब अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है। वहीं अन्य फसलो ंमें कपास, ज्वार, मक्का और साग सब्जियों पर भी अतिवृष्टि की मार पड़ी है। किसानों ने जितना अपनी खेती की फसलों की उपज खर्चा किया गया है उसकी लागत भी निकालना मुश्किल हो गया है। ऐसे में किसानों के सामने बैंक को सहकारी समिति साहूकारों का बीज विक्रेताओं के साथ-साथ परिवार की समस्या मुंह बाएं खड़ी है । किसानों ने मांग की है कि केंद्र तथा राज्य शासन के अधिकारियों का निरीक्षण दल भेजकर किसानों की की प्रभावित फसलों का मुआवजा दिलाया जाए।
जंगली सूकर ने की फसल बर्बाद
चांद . ग्राम पंचायत चोरबत्ती में जंगल ***** से किसान परेशान है। जंगली सूकर बड़ी मात्रा में मक्का फसल को बर्बाद कर रही है। क्षेत्र के किसान मंसाराम किरार की करीब 2 एकड़ फसल पूरी तरह बर्बाद हो चुकी। इस संबंध में मंसाराम ने तहसीलदार को लिखित आवेदन देकर मुआवजा राशि की मांग की है।