स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

CBSE Pattern : क्लास में कमजोर बच्चों पर सबसे ज्यादा ध्यान देने की सलाह

Rajendra Sharma

Publish: Sep 17, 2019 08:31 AM | Updated: Sep 17, 2019 00:20 AM

Chhindwara

शिक्षकों के लिए प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित

छिंदवाड़ा/ सीबीएसइ प्राचार्य संगठन सहोदय द्वारा शिक्षकों के लिए रविवार को प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस मौके पर सीबीएसइ कार्यालय अजमेर द्वारा शिक्षकों को जीवन कौशल के बारे में जानकारी दी गई। बच्चों एवं शिक्षकों पर पड़ रहे पढ़ाई एवं नंबर के दबाव को देखते हुए यह कौशल प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
प्रशिक्षण में रिसोर्स पर्सन के रूप में जबलपुर से आईं विषय विशेषज्ञ भट्टाचार्य ने शिक्षकों को मार्गदर्शन दिया। उन्होंने अपने प्रशिक्षण में पावर पाइंड प्रजेंटेशन के माध्यम से तनाव रहित शिक्षा प्रणाली का प्रशिक्षण दिया।
सत्र की शुरुआत में डॉन बास्को स्कूल झिरपा के प्राचार्य व संगठन अध्यक्ष डॉ. वायएस सिसोदिया, फस्र्ट स्टैप की प्राचार्य मंजू साब ने दीप प्रज्ज्वलन कर किया गया। प्रथम सत्र में शिक्षकों को जीवन कौशल की आवश्यकता पर डाक्युमेंट्री से समझाया गया। वर्तमान में समय में शिक्षा व्यवस्था बच्चे को केंद्र में रखकर दी जाने वाली पद्धति पर ज्यादा केंद्रित है। शिक्षक को इसी बात को ध्यान में रखकर वातावरण को तनाव मुक्त रखना चाहिए, इसके लिए शिक्षकों को प्रशिक्षित किया गया।
द्वितीय सत्र में अलग-अलग बच्चों के साथ शिक्षक किस तरह अपनी शिक्षण प्रणाली का इस्तेमाल करेें, इस विषय पर मॉड्यूल द्वारा तथा ग्रुप एक्टिविटी द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। तृतीय सत्र में शिक्षकों को बिना किसी दबाव के शिक्षा देना, शिक्षण विधि आदि की जानकारी दी गई, जिससे कमजोर बच्चों पर विशेष ध्यान दिया जा सके। कार्यशाला के अंत में सहोदय संगठन की अध्यक्ष डॉ. सिसोदिया ने रिसोर्स पर्सन भट्टाचार्य के प्रयासों के लिए आभार व्यक्त किया।