स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Accident: मौत पर अधिकारी गम्भीर, हमेशा के लिए निरस्त होगा लाइसेंस

Prabha Shankar Giri

Publish: Sep 22, 2019 12:28 PM | Updated: Sep 22, 2019 12:28 PM

Chhindwara

लोहांगी में हुए एक्सीडेंट का मामला

छिंदवाड़ा/ बस के चालक का ड्राइविंग लाइसेंस जल्द ही हमेशा के लिए निरस्त किया जाएगा। परिवहन विभाग ने दस्तावेजी कार्रवाई भी शुरू कर दी है। प्राथमिक जांच में बस का परमिट, फिटनेस और बीमा सही पाया गया। यात्री बस में ओवरलोडिंग थी इस बात के प्रमाण भी विभागीय अधिकारियों को मिल चुके हैं। वहीं पुलिस ने इस मामले में दो प्रकरण दर्ज किए हैं जिसमें सडक़ दुर्घटना के कारण मौत शामिल है, इसमें वाहन के चालक को आरोपी बनाया गया है। दूसरा प्रकरण बस को आग लगाने का कायम किया गया है, इसमें आरोपी अज्ञात है।
मोहखेड़ थाना में पदस्थ एएसआइ राजेश कवरेती ने बताया कि दिलीप पिता रामप्रसाद विश्वकर्मा निवासी देवगढ़ की रिपोर्ट पर बस क्रमांक एमपी 28 पी 0250 के चालक पांढुर्ना थाना क्षेत्र के ग्राम सिराठा निवासी परसराम देशमुख के खिलाफ लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाने सहित अन्य धारा में प्रकरण दर्ज किया गया है। वहीं बस के परिचालक की रिपोर्ट पर अज्ञात लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। दुर्घटना की सबसे बड़ी वजह वाहन में क्षमता से अधिक यात्री बिठाना और तेज रफ्तार से वाहन चलाना सामने आया है। अतिरिक्त क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी सुनील कुमार शुक्ला ने बताया कि बस में क्षमता से अधिक यात्री बैठे थे। नीचे गिरने वाला युवक गेट पर लटका हुआ था। बस के फिटनेस से लेकर अन्य दस्तावेजों की जांच में सब ठीक पाया गया है। यात्री बस के चालक का हमेशा के लिए ड्राइविंग लाइसेंस निरस्त किया जाएगा।

यह है पूरा मामला
जिले के लावाघोघरी थाना क्षेत्र के ग्राम लिल्लाई से छिंदवाड़ा के लिए चलने वाली यात्री बस शुक्रवार सुबह ग्राम लोहांगी के पास एक पेड़ से टकराई जिसके बाद उसमें सवार यात्री नीचे गिरा जिसकी मौत हो गई। गुस्साए लोगों ने बस में आग लगा दी थी, जिससे वह पूरी तरह जलकर राख हो गई, इसी बस के चालक का ड्राइविंग लाइसेंस हमेशा के लिए निरस्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

पुलिस नहीं टोकती
क्षमता से अधिक यात्री लेकर चलने वाले वाहनों को पुलिस न तो रोकती है और न तो किसी प्रकार की कार्रवाई करती है। जिस बस से दुर्घटना हुई वह थाना के ठीक बाजू से हर दिन गुजरती थी, इसके बाद भी उसके खिलाफ पहले कोई कार्रवाई नहीं की गई। क्षेत्र के लोगों का आरोप है कि मोहखेड़ पुलिस के सामने खुलेआम क्षमता से अधिक सवारी लेकर वाहन चलते हैं। इस तरह की कार्यप्रणाली के चलते पुलिस पर भी उंगलियां उठ रहीं हैं।

रूट पर केवल दो बसें
ग्राम लिल्लाई से छिंदवाड़ा के लिए 24 घंटे में केवल दो बसें ही चलती हैं। अधिक गांव होने के कारण यात्रियों की संख्या भी काफी होती हैं, ऐसे यात्रियों की मजबूरी बन जाती है कि वे ओवरलोड बसों में सफर करें। अतिरिक्त क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी सुनील कुमार शुक्ला ने बताया कि दो बसों को परमिट है, अगर अन्य ऑपरेटर आवेदन करते हैं तो उन्हें भी परमिट दिया जाएगा।