स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पक्षियों के सहारे भारत में नशे का आतंक फैला रहा पाकिस्तान

arun Kumar

Publish: Sep 10, 2019 00:02 AM | Updated: Sep 10, 2019 00:02 AM

Chandigarh Punjab

Heroin: कश्मीर (Kashmir) में आतंकियों (Terrorist) को न भेज पाने की खिसियाहट वह नशे के आतंक (Terror of poision) से पूरी करना चाहता है। जलकुंभी पक्षी (parthenium bird ) के सहारे वह भारत में हेरोइन (Heroin) के पैकेट भेज रहा है। भारत के युवाओं (Youths of India) की नसों में हेरोइन का नशा देकर वह कश्मीर का बदला लेना चाहता है।

फिरोजपुर: कश्मीर में मात खाने के बाद अब पाकिस्तान तुच्छता पर उतर आया है। कश्मीर में आतंकियों को न भेज पाने की खिसियाहट वह नशे के आतंक से पूरी करना चाहता है। जलकुंभी पक्षी के सहारे वह भारत में हेरोइन के पैकेट भेज रहा है। भारत के युवाओं की नसों में हेरोइन का नशा देकर वह कश्मीर का बदला लेना चाहता है। हाल ही में सतलुज नदी के रास्ते जलकुंभी पक्षी का सहारा लेकर पाक तस्करों ने भारत में हेरोइन भेजना शुरू कर दिया है। भारत-पाक अंतर्राष्ट्रीय हुसैनीवाला बार्डर पर बीओपी साम्मेके के पास से पाकिस्तान की तरफ से बहने वाले सतलुज नदी हेरोइन तस्करी का पता चला है। बीएसएफ ने रविवार रात नदी में जलकुंभी पक्षी की आड़ में पाक से आ रही 24 किलो 150 ग्राम हेरोइन की खेप पकड़ी है। इस क्षेत्र में 24 दिनों के भीतर ये तीसरा मामला है।

कैसे हुआ नापाक खुलासा

पक्षियों के सहारे भारत में नशे का आतंक फैला रहा पाकिस्तान

बीएसएफ अधिकारियों के मुताबिक बीएसएफ बटालियन-136 के जवान मोटर बोट से बीओपी साम्मेके के पास सतलुज नदी के उस प्वाइंट पर पेट्रोलिंग कर रहे थे, जहां से पाकिस्तान की तरफ से सतलुज नदी भारत में प्रवेश करती है। जहां पानी के बहाव के साथ जलकुंभी भी भारत की तरफ तेजी से बह कर आती हैं। पाकिस्तानी तस्करों ने अपने साथी भारतीय तस्करों तक हेरोइन की खेप पहुंचाने के लिए सतलुज नदी को माध्यम बनाया है। दरिया में बह कर आ रही जलकुंभी पर हेरोइन के पैकेट रखकर भारतीय सीमा की तरफ तैरा देते हैं। इसी तरह रविवार की देर रात जलकुंभी के ऊपर किसी लिफाफे में लिपटे हेरोइन के पांच पैकेट भारतीय सीमा में प्रवेश हुए तो पेट्रोलिंग कर रहे बीएसएफ जवानों ने पकड़ लिया और खोलकर देखा तो उसमें हेरोइन के पांच पैकेट थे, जिनका वजन पांच किलोग्राम था।

तस्कर हरजिंदर की गिरफ्तारी के बाद चौकसी

पक्षियों के सहारे भारत में नशे का आतंक फैला रहा पाकिस्तान

जानकारों का मानना है कि 16 अगस्त को कुख्यात तस्कर हरजिंदर सिंह को पाक की तरफ से नदी के रास्ते 16 किलो 150 ग्राम हेरोइन खेप व गोला-बारूद लेकर आते समय काबू किया था। इसके बाद से बीएसएफ ने पेट्रोलिंग तेज कर दी। दरिया में पेट्रोलिंग करने के कारण बीएसएफ ने सात सितंबर को नदी के रास्ते से ही पाक से आ रही तीन किलो हेरोइन पकड़ी थी और अब रविवार देर रात को पांच किलो हेरोइन पकड़ी है। पाकिस्तान इस रास्ते नशे का काराबार काफी पहले से कर रहा है, लेकिन हाल ही में जम्मू-कश्मीर में धारा 370 समाप्त होने के बाद ज्यादा सक्रिय हो गया है।

क्या है हरजिंदर की कहानी

पक्षियों के सहारे भारत में नशे का आतंक फैला रहा पाकिस्तान

बीएसएफ ने पाकिस्तान से 16 किलो हेरोइन लाकर लौट रहे नशा तस्कर को सीमा पर गिरफ्तार किया है। उससे पाकिस्तानी मोबाइल व सिम, 31 राउंड गोलियां, एक मैगजीन भी बरामद की गई हैैै। वह इन्हें एक टायर ट्यूब में छिपा कर ला रहा था। बताया जा रहा है कि नशा तस्कर हरजिंदर सिंह सरहदी गांव पल्ला का रहने वाला है। गत दिनों उसकी मां का मृत्युभोज था। इस दौरान हरजिंदर सिंह नहीं दिखा तो सभी ने आश्चर्य जताया। तभी किसी ने जानकारी दी कि हरजिंदर को सीमा के पास देखा गया है। यह जानकारी बीएसएफ को मिली तो वह सतर्क हो गई। बीएसएफ के जवानों को सीमा पर दरिया में कुछ हलचल दिखी। जवानों ने आगे नजर दौड़ाई तो एक व्यक्ति दरिया पार कर भारतीय सीमा में प्रवेश कर रहा था। जवानों ने उसे वहीं दबोच लिया। उसने अपना नाम हरजिंदर सिंह बताया। हरजिंदर पाकिस्तान गया था और रात को हेरोइन की खेप लेकर लौट रहा था।