स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सदन में किया ऐलान

Chandra Prakash sain

Publish: Aug 02, 2019 18:30 PM | Updated: Aug 02, 2019 18:30 PM

Chandigarh Punjab

Chief Minister Manohar Lal declared : केंद्र सरकार ने राज्य सरकार से मिलकर दिल्ली व पानीपत के बीच रैपिड रेल कॉरिडोर की स्थापना करेगी। जिससे दिल्ली व पानीपत के बीच की दूर सिमट कर महज 45 मिनट की रह जाएगी।

अब 45 मिनट में तय होगा दिल्ली से पानीपत का रास्ता
नई रेल ट्रैक पर सर्वे का काम शुरू, डीपीआर तैयार
केंद्र सरकार हरियाणा वासियों के लिए जल्द करेगी परियोजना का ऐलान

चंडीगढ़. केंद्र सरकार ने राज्य सरकार से मिलकर दिल्ली व पानीपत के बीच रैपिड रेल कॉरिडोर की स्थापना करेगी। (Rapid Rail Corridor between Delhi and Panipat ) जिससे दिल्ली व पानीपत के बीच की दूर सिमट कर महज 45 मिनट की रह जाएगी।
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल (Chief Minister Manohar Lal) ने शुक्रवार को विधानसभा के मानसून सत्र के पहले दिन प्रश्नकाल के दौरान यह ऐलान किया। विधानसभा में गन्नौर के विधायक कुलदीप शर्मा ने सब्जी मंडी की स्थापना के मुद्दे पर सवाल उठाया। कुलदीप शर्मा ने पूरक सवाल के दौरान गन्नौर के साथ राष्ट्रीय कनैक्टीविटी न होने का मुद्दा उठाया। जिसके चलते मुख्यमंत्री ने सदन के पटल पर वकत्तव्य जारी करते हुए बताया कि दिल्ली के सराय काले खां से पानीपत तक रैपिड रेल सिस्टम का सर्वे शुरू हो चुका है। डीपीआर तैयार हो चुकी है।

यह रेल शुरू होने से दिल्ली व पानीपत के बीच (Railway starts between Delhi and Panipat) का सफर जहां केवल 45 मिनट में तय होगा वहीं गन्नौर में भी इस रेल के ठहराव बनाए जाएंगे। जिससे गन्नौर में बन रही अंतरराष्ट्रीय फल एवं सब्जी मंडी को सीधा लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य सरकार तथा केंद्र सरकार के बीच इस मुद्दे को लेकर सहमति हो चुकी है। केंद्र सरकार द्वारा जिन छह कोरीडोर को स्थापित किया जा रहा है उसमें पानीपत भी शामिल है। इसके अलावा राजस्थान की तरफ जाने वाले रेल कोरिडोर को भी हरियाणा से निकालने पर केंद्रीय स्तर पर विचार चल रहा है।

क्या है रैपिड रेल कॉरिडोर प्रोजैक्ट (What is Rapid Rail Corridor project)

दिल्ली व पानीपत के बीच रैपिड ट्रेन (Rapid train) चलाने की घोषणा वर्ष 2013 में ही हो गई थी लेकिन केंद्र और प्रदेश सरकार में तालमेल की कमी के कारण प्रोजेक्ट रुका था। बैठक में शहरी विकास एवं संसदीय मामलों के तत्कालीन केन्द्रीय ने सीएम मनोहर लाल से इस बारे में चर्चा की और काम जल्द शुरू करने के निर्देश दिए गए। इस प्रोजैक्ट के निर्माण में नई जमीन खरीदना बड़ी चुनौती थी। यह कॉरिडोर एनसीआर से जुड़े 72 हजार करोड़ रुपए के आरआरटीएस का एक हिस्सा है। दिल्ली-पानीपत के अलावा दिल्ली-अलवर (180 किमी) और दिल्ली-मेरठ (90 किमी) रैपिड ट्रेन प्रोजेक्ट भी इसमें शामिल है।
विकास मंत्रालय एनसीआरपीबी को 2814 करोड़ रुपए, दिल्ली सरकार को 684 करोड़ और हरियाणा सरकार को 2129 करोड़ रुपए देने होंगे। 7502 करोड़ का कर्ज तथा 5627 करोड़ पीपीपी से जुटाए जाएंगे। दिल्ली से पानीपत तक इस पर अनुमानित 130 करोड़ प्रति किलोमीटर खर्च आएगा।

हरियाणा के किन हिस्सों से निकलेगी रैपिड ट्रेन (Rapid train from which parts of Haryana will emerge)

रैपिड रेल की लाइन 111 किलोमीटर लंबी होगी। इसमें 88.7 किलोमीटर हरियाणा में है। पानीपत में इसके 5 स्टेशन बनाए जाएंगें, वहीं भैंसवाल गांव में करीब 125 एकड़ में डिपो तैयार किया जाएगा। यहां इसके लिए पंचायती जमीन को लिया जाएगा।

रैपिड ट्रेन के कोच 22 मीटर लंबे होंगे। रेल से उलट इसमें लगेज स्पेस भी होगा। हर स्टेशन करीब 5 एकड़ में होगा। सोनीपत के जिला नगर योजनाकार अधिकारी अरविंद्र ढुल ने बताया नए प्लान के तहत हाईवे के साथ पुल पर ट्रेन चलेगी। पानीपत में हरिद्वार बाईपास की ओर हाईवे के साथ ड्रेन नंबर एक की सिंचाई विभाग की जमीन है। इसके ऊपर स्टेशन बनाया जाएगा। पानीपत में सचिवालय के पास स्काईलार्क, सर्कस मैदान पीडब्ल्यूडी कार्यालय की जमीन को मिलाकर स्टेशन बनना तय किया है।

कहां से चलेगी कहां रूकेगी रैपिड ट्रेन

नए प्लान के तहत ट्रेन दिल्ली के सराय कालेखां से चलेगी। आरपी से कश्मीरी गेट तक अंडरग्राउंड कॉरिडोर होगा। बुराड़ी स्टेशन, मुकरबा चौक, कुंडली, केएमपी रोड के पास राजीव गांधी एजुकेशन सिटी के सामने हाईवे के साथ पूर्व की तरफ स्टेशन बनेगा। मुरथल गन्नौर में पूर्व पश्चिम दोनों तरफ स्टेशन होंगे। हसनपुर के पास डिपो बनेगा। समालखा में पावटी रोड पर, पानीपत में एनएफएल के पास हरिद्वार बाइपास पर, मिनी सचिवालय के सामने स्टेशन बनेगा। फिर बरसत रोड से होते हुए ड्रेन नंबर दो के पास भैंसवाल के पास अंतिम स्टॉपेज डिपो बनेगा।

और अधिक खबरें पढऩे के लिए क्लिक https://www.patrika.com/haryana-news/करें

 

https://www.patrika.com/hisar-news/haryana-husband-in-rajya-sabha-wife-assembly-and-son-in-lok-sabha-4878854/