स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भाजपा ने कैसे बदला प्रसिद्ध महिला कुश्ती खिलाड़ी बबीता फौगाट का मन

Shashank Pathak

Publish: Sep 17, 2019 17:02 PM | Updated: Sep 17, 2019 17:02 PM

Chandigarh Punjab

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने इस मुद्दे पर राजनीति करने की बजाए बड़ा फैसला किया। इस घटनाक्रम के बाद उनका मन बदला ।

चंडीगढ़।
भारतीय महिला कुश्ती खिलाड़ी एवं कॉमनवेल्थ विजेता बबीता फौगाट ने कहा है कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाया तब उनका मन बदला और उनकी अंतर आत्मा से यही आवाज आई कि भाजपा के हाथों में ही यह देश सुरक्षित है। जिसके चलते उन्होंने भाजपा में शामिल होने का फैसला किया। चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए बबीता फौगाट ने कहा कि धारा 370 के मुद्दे पर देश में पिछले लंबे समय से राजनीति हो रही थी। इस धारा के दम पर कई राजनीतिक दलों ने खुद को जिंदा रखा हुआ था। चुनाव के समय में धारा 370 हटाने की बातें तो होती थी लेकिन बाद में कुछ नहीं होता था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने इस मुद्दे पर राजनीति करने की बजाए कश्मीर वासियों के हित में बड़ा फैसला करते हुए अनुच्छे 370 को समाप्त किया। इस घटनाक्रम के बाद उनका मन बदला और उन्होंने भाजपा में शामिल होने का फैसला किया।

राष्ट्रहित सर्वोपरि
निकट भविष्य में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान चुनाव लडऩे के सवाल को टालते हुए बबीता फौगाट ने कहा कि खेल हो या राजनीति उनके लिए हमेशा राष्ट्रहित सर्वोपरि रहे हैं और रहेंगे। बबीता ने दावा किया कि वह हमेशा से ही राष्ट्रवादी पार्टी के साथ जुडऩा चाहती थी। उन्होंने काफी मंथन करने पर पाया कि भाजपा ही देशहित और राष्ट्रहित की बात करती है।

पुलिस की नौकरी से इस्तीफा देने का फैसला
महिला खिलाड़ी ने कहा कि पुलिस विभाग की नौकरी करते समय वह सक्रिय राजनीति नहीं कर सकती थी। उन्हें राजनीति जनसेवा का अच्छा माध्यम लगा इसलिए उन्होंने परिवार के सदस्यों व अन्य परिचितों से राय करने के बाद पुलिस की नौकरी से इस्तीफा देने का फैसला किया है। उसका परिवार इस फैसले से सहमत है।