स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पीड़ित बोला, पुलिस वालों ने शराब के नशे में हमारी महिलाओं से अभद्रता की, फिर हमपर लाठियां बरसायी गयीं

Mohd Rafatuddin Faridi

Publish: Aug 18, 2019 15:59 PM | Updated: Aug 18, 2019 15:59 PM

Chandauli

चंदौली के बलुआ में पुलिस वालों पर कई लोगों की पिटायी का लगा आरोप।

चंदौली. बलुआ थानाक्षेत्र के बलुआ कस्बे में श्मशान से लौट रहे लोगों को फॉलोअर के विवाद के बाद पुलिस द्वारा बेरहमी से पीटा गया। इस पिटायी में वाराणसी के भाजपा मंत्री के भाई को गंभीर चोटें आयीं, जिसके चलते उसे वाराणसी के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराना पड़ा। इसको लेकर पीड़ित लोगों ने थाना घेर लिया, जिसके बाद पहुंचे एएसपी ने किसी तरह मामले को संभाला। इस घटना के बाद पीड़ित पक्ष के लोगों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस ने उनके साथ ज्यादती की और बेरहमी से पिटायी कर दी।

इसे भी पढ़ें

पुलिस की पिटायी से भाजपा पदाधिकारी के भाई की हालत नाजुक, विवाद के बाद आधा दर्जन लोगों पर टूट पड़े पुलिस वाले

 

शनिवार की देर रात कुछ लोग अंतिम संस्कार में शामिल होकर लौट रहे थे। उनका आरोप है कि रास्ते में थाने का एक फॉलोअर शराब के नशे में उनकी गाड़ी पर आकर गिर गया। उसे जब उठाया गया तो उसने गाली गलौज शुरू कर दिया। पीड़ित पक्ष का दावा है कि फॉलोअर ने अपने दो साथी पुलिस वालों को बुला लिया और उन लोगों ने महिलाओं से भी अभद्रता की। इसके बाद जब वो लोग इसकी शिकायत करने थाने पहुंचे तो वहां उनपर कुछ सिपाहियों ने लाठियां बरसायीं। महिलाओं को भी दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया। इसमें कल्लू साहनी नामके युवक के सिर पर गंभीर चोट लगी, जिसके चलते उसे वाराणसी के ट्रॉमा सेंटर भेजना पड़ा। इस पिटायी में आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए।

 

 

इसके बाद तो लोगों ने थाने का घेराव कर दिया। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे एएसपी ने नाराज लोगों को किसी तरह मनाया और कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। पीड़ित ने दावा किया कि फॉलोअर ने घर की औरतों के साथ छेड़खानी की और मना करने पर हाथापाईं करने लगा। देवेन्द्र सिंह और गौरव सिंह नामके सिपाहियों ने भी अभद्रता की। थाने पर शिकायत लिखने के बहाने सबको एक जगह जुटाकर हमपर लाठियां बरसायी गयीं। महिलाओं को भी दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया। इस बीच एएसपी ने मामले की जांच कराकर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है।