स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रेल फ्रेट कॉरिडोर योजना पर किसानों ने निकाली पदयात्रा, पूर्व सपा सांसद रामकिशुन ने भरा जोश

Ashish Kumar Shukla

Publish: Dec 16, 2018 22:32 PM | Updated: Dec 16, 2018 22:32 PM

Chandauli

पद यात्रा के दौरान अलीनगर थानाध्यक्ष अतुल नारायण सिंह ने पदयात्रा की कमान दर्जनों पुलिसकर्मियों के साथ संभाल रखी संभाल रखी थी

चंदौली. रेल फ्रेट कोरिडोर परियोजना व रिंग रोड में कम मुआवजा मिलने से आक्रोशित किसानों एवं सपा कार्यकर्ताओं ने रविवार को तारा जीवन पुर चौराहे से पद यात्रा निकालकर खेत खलिहान होते दर्जनों गांव का भ्रमण कर बनौली फाटक पर समाप्त कर सभा में तब्दील किया। तत्पश्चात सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। पद यात्रा के दौरान अलीनगर थानाध्यक्ष अतुल नारायण सिंह ने पदयात्रा की कमान दर्जनों पुलिसकर्मियों के साथ संभाल रखी संभाल रखी थी। इसके बावजूद शासन प्रशासन के लोग पद यात्रा के दौरान बौना दिखे।

रिंग रोड में क्षेत्र के टडिया ,कुरहना,सैदपुरा, कोरी, संघति ,रेवसा, बसनी सहित दर्जनों गांव के किसानों की जमीन अधिग्रहण की जा रही है वही रेल फ्रेट कोरिडोर परियोजना के लिए बनौली खुर्द, डिग्घी, रामपुर, गंजख्वाजा ,रेवसा,रामपुर सहित एक दर्जन गांवों में जमीन अधीग्रहण का कार्य चल रहा है। लेकिन किसान उचीत मुआवजे के भुगतान को लेकर लामबंद है। इसको लेकर काश्तकारों में भारी नाराजगी बनी हुई है। रविवार को किसानों व सपा कार्यकर्ताओं ने संयुक्त रूप से पदयात्रा निकालकर खेत खलिहान होते हुए इससे प्रभावित लगभग एक दर्जन गांव से होते हुए बनौली पहुंचकर सभा में तब्दील कर सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। इससे पूर्व पद यात्रा के दौरान पूर्व सांसद रामकिशुन यादव का जगह जगह किसानों ने फूल मालाओं से स्वागत किया ।

वहीं किसान एक गांव से पदयात्रा में शामिल खोते चले गए जिससे पदयात्रा काफी लंबी और सहायकों की संख्या में किसान मौजूद दिखे ।पदयात्रा में शामिल पूर्व सांसद रामकिशुन यादव ने पदयात्रा के माध्यम से किसानों में जोश भरने का काम किया। उन्होंने कहा कि किसानो के साथ सरकार द्वारा किसानों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है ।जिसको समाजवादी पार्टी बर्दाश्त नहीं करेगी। किसानों की लड़ाई लड़ने का काम हम लोगों द्वारा हम लोगों द्वारा हम लोगों द्वारा हम लोगों द्वारा बखूबी किया जाएगा। हमारी या हमारे समर्थन की सरकार बनी तो किसानों को उचित मुआवजा दिलवाने का काम करूंगा। किसान जान देंगे पर जमीन नहीं देंगे। मारेंगे नहीं मानेंगे भी नहीं आदि नारों के साथ किसानों का पद यात्रा चला।

पूर्व ब्लाक प्रमुख बाबू लाल यादव ने कहां की किसानों की लड़ाई में समाजवादी पार्टी हमेशा का रहने का काम की है और करेगी अन्नदाताओं पर सरकार का डंडा चलाया जा रहा है चला जा रहा है। लेकिन किसान भी चुप बैठने का काम नहीं करेंगे। खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के पूर्व सदस्य संतोष यादव ने कहा कि किसानों की जमीन जबरजस्ती अधिग्रहण नहीं करने दिया जाएगा। पदयात्रा में मुख्य रूप से किसान नेता केदार यादव ,महेंद्र एडवोकेट, कृष्णकांत यादव, जिला पंचायत सदस्य मुलायम सिंह यादव, यूवजनसभा के जिला अध्यक्ष चकरु यादव ,विक्की प्रधान, निरंजन यादव, जमुना विश्वकर्मा, रमेश तिवारी, डॉक्टर स्वामीनाथ यादव ,चंद्रशेखर सिंह ,सुरेंद्र यादव, लालदेव प्रधान ,विजेंद्र यादव ,रामविलास प्रधान, दशरथ प्रधान, चंद्रबिंदु प्रधान , प्रदीप यादव ,सुरेंद्र सोनकर ,रामविलास, दयाराम, मनोज गोंड श्याम नारायण यादव सहित सैकड़ों किसान पदयात्रा में शामिल रहे।