स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पिता के आरोप जय श्री राम न कहने पर मेरे बेटे को जलाया पर पुलिस का इनकार, इधर बेटे ने अस्पताल में तोड़ा दम

Ashish Kumar Shukla

Publish: Jul 30, 2019 11:35 AM | Updated: Jul 30, 2019 11:35 AM

Chandauli

रविवार की भोर में घटी थी घटना, पिता ने कुछ लोगों पर लगाये थे जलाने के आरोप, पुलिस ने घटना को बताया था मनगढ़ंत

चंदौली. लगातार दो दिनों तक पूर्वांचल की सबसे बड़ी घटना आखिरकार दुखद मोड़ पर पहुंच गई। मंगवार की सुबह गंभीर रूप से जले किशोर ने वाराणसी के कबीरचौरा मंडलीय अस्पताल की बर्न यूनिट में दम तोड़ दिया। इस घटना के बाद परिजनों और इलाके के लोगों में हाहाकार मच गया। पूरा मामला इस कारण अधिक गंभीर हुआ कि मृतक के पिता ने मीडिया के सामने आकर आरोप लगाया था कि उसको बेटे को जय श्री राम ने बोलने पर कुछ लोगों ने मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा दिया था।

बतादें कि सैयदराजा नगर पंचायत के लोहिया नगर निवासी 17 वर्षीय़ एक किशोर रविवार की भोर में संदिग्ध परिस्थितियों में झुलस गया था। शरीर के हिस्से तकरीन 60 फीसदी से अधिक जल गये थे। पहले तो इसका इलाज जिला अस्पताल चंदौली में फिर वाराणसी मंडलीय अस्पताल के बर्न यूनिट में कराया जा रहा था।

मृतक के पिता ने आरोप लगाया उनका बेटा रविवार की भोर में लघुशंका के लिए निकला था इसके बाद दौड़ लगाने के लिए छलका पर गया था। वहीं पर चार आदमी आये बेटे को गमछे से बांधे और बाइक पर लेकर चले गये। इसके बाद रास्ते में रोक कर जबरदस्ती जय श्रीराम बोलने को कहा। मेरे लड़के ने नहीं बोला तो मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा दिये। पिता का कहना था कि घटना के बारे में बेटे ने जितनी जानकारी दी है वही सबको बता रहा हूं। चंदौली पुलिस को तहरीर में क्या लिखा गया है इसकी जानकारी मुझे नहीं है।

नहीं स्पष्ट हो सकी थी पीड़ित का आवाज

पत्रिका ने पूरे मामले पर जब पीड़ित से बात की तो उसकी जुबान सही से चल भी नहीं पा रही थी। जिससे ये स्पष्ट न हो सका कि आखिर उसके साथ किसने क्य़ा किया।

पुलिस ने कहा मनगढ़त हैं आरोप

वहीं सोमवार को चंदौली जिले के पुलिस कप्तान ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा था कि मेरे जांच अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर लोगों से बात किया। साथ ही चश्मदीदों के जो बयान दर्ज किये गये हैं उसके मुताबिक किशोर ने ही खुद को आग लगाई है। मामले को तूल देने की कोशिश की जा रही है। जो लोग ऐसा कर रहे हैं उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। हालांकि किशोर की मौत के बाद लोगों को भारी सदमा पहुंचा है। हालांकि मौके पर स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। पीएसी समेत कई थानों की पुलिस सैयदराजा नगर पंचायत के लोहिया नगर में तीन दिनों से तैनात है।