स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मुख्यमंत्री ने थपथपाई अपनी पीठ,बोले-14 वर्ष की तुलना 4 वर्ष के चतरा से करें

Prateek Saini

Publish: Jan 19, 2019 20:41 PM | Updated: Jan 19, 2019 20:41 PM

Chaibasa

मुख्यमंत्री चतरा में “स्वस्थ चतरा” कार्यक्रम में शामिल हुए...

 

(चतरा,चाईबासा): मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि अच्छी सोच सदैव सामूहिक रूप से लाभान्वित करती है, ऐसी एक सोच के तहत चतरा जिले के सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। स्वस्थ चतरा जैसी योजना पूरे राज्य में लागू होगी, 22 जनवरी को विधानसभा में पेश होने वाले बजट में इसका प्रावधान किया जाएगा, 2022 तक कोई बिना दवा ना रहें इसके लिए योजना की शुरुआत की जा रही है। उन्होंने कहा कि पूरे राज्य में 300 एंबुलेंस संचालित है 30 और एंबुलेंस जल्द प्रारम्भ की जाएगी। रघुवर दास शनिवार को चतरा के जवाहरलाल स्टेडियम में आयोजित स्वस्थ चतरा कार्यक्रम में बोल रहे थे।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने ग्लोबल स्कील समिट के माध्यम से 10 जनवरी को एक साथ 1 लाख 6 हजार युवाओं को निजी क्षेत्र में 8 हजार से 11 लाख वेतनमान में नौकरी उपलब्ध कराने का काम किया। 17 देश के राजदूतों ने इस कार्य का लोहा माना। आने वाले दिनों में 30 हजार युवाओं को प्रशिक्षण देकर रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा आजदी के बाद पहली बार केंद्र सरकार द्वारा कौशल विकास मंत्रालय का गठन किया गया ताकि देश और राज्य के युवाओं को शिक्षा के साथ हुनरमंद भी बनाया जाए। हमारा मकसद युवाओं को हुनरमंद बना रोजगार देना है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि आज ग्रामीण, राज्य मार्ग या फिर राष्ट्रीय राजमार्ग हो हर क्षेत्र में कार्य हुए हैं। झारखण्ड में 14 वर्ष में 22 हजार किमी ग्रामीण सड़क का निर्माण हुआ और 4 वर्ष में 20 किमी, 14 वर्ष में प्रतिदिन सड़क बनाने की रफ्तार करीब 1 किमी से ज्यादा थी, 4 वर्ष में 3.28 किमी प्रतिदिन सड़क का निर्माण हो रहा है। उन्होंने कहा कि चतरा और चाईबासा में जल्द स्टील प्लांट निर्माण के लिए आधारशिला रखी जाएगी। इसके लिए लगातार केंद्र सरकार से समन्वय
स्थापित कर बात किया जा रहा है। स्टील प्लांट खुलने से रोजगार के अवसर का सृजन होगा।


इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने बिरसा मुंडा संग्रहालय में निर्मित होने वाले शहीदों की प्रतिमा निर्माण के लिए चतरा के 52 गांव से मंगाई गई मिट्ठी संग्रहण कार्यक्रम में हिस्सा लिया। वहीं स्वस्थ चतरा के तहत निदान योजना, आंगन योजना, सगुन योजना और मोटरसाइकिल एम्बुलेंस योजना का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने सांकेतिक तौर पर चतरा और बालूमाथ की साहिया को निदान योजना के तहत किट का वितरण किया।