स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वॉरियर प्रिंसेज किरदार की तमन्ना: यामी गौतम

Kamal Singh Rajpoot

Publish: Feb 01, 2016 00:34 AM | Updated: Feb 01, 2016 00:34 AM

Bollywood

टी-सीरीज बैनर तले निर्मित फिल्म सनम रे में पुलकित सम्राट ने जहां आकाश का रोल प्ले किया है, वहीं यामी गौतम श्रुति के किरदार में नजर आने वाली हैं।

रोहित तिवारी
मुंबई। टी-सीरीज बैनर तले निर्मित फिल्म सनम रे में पुलकित सम्राट ने जहां आकाश का रोल प्ले किया है, वहीं यामी गौतम श्रुति के किरदार में नजर आने वाली हैं। फिल्म के प्रमोशन को लेकर हुई दोनों से साथ और खास मुलाकात में उन्होंने पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ से रिलेटेड कई बातें राजस्थान पत्रिका से शेयर कीं, जिनके पेश हैं कुछ बिंदु-  

फिल्म में काम का अनुभव कैसा रहा?
पुलकित... (कुछ जुदा अंदाज में...) बहुत की उंदा रहा, यह मेरी पहली लव स्टोरी है। मेरे हिसाब से फिल्म में काम करने वाले हर शख्स को यह कहानी पसंद आई थी, जिसकी वजह से सभी ने काम के लिए हामी भरी...। लोकेशन से लेकर हर चीज एक्साइटिंग रही। वाकई में लद्दाख में शूटिंग के अनुभव बेहतर रहा।

यामी... (कुछ सोचते हुए...) वाकई में सब सही ही बोला है...। एक एक्ट्रेस के तौर पर काफी अ'छा रहा। साथ ही एक्साइटिंग भी... क्योंकि स्टाइलिंग के तौर पर भी कई मायनों में ध्यान रखा जाता है। साथ ही कई अनदेेखे स्पॉट्स पर शूटिंग बहुत अनुभव लायक रही। इसके अलावा बेहतरीन टीम के साथ काम करना भी तारीफ लायक रहा।

अभी तक के करियर के बारे में कुछ बताना चाहेंगे?

पुलकित... (फिर... वही जुदा...) करियर तो दुनिया वाले बनाते हैं, हम तो बस... काम ही करते हैं। खैर, अभी तक मैंने जो भी काम किया है, वहां से हमेशा ही ग्रोथ मिली है। भले ही वह बॉक्स ऑफिस पर काम करे, न करें, लेकिन क्रिएटिव और पर्सनल लेवल पर मैंने खुद को आगे ही पाया है।

यामी... (आई थिंक...) खुद के बारे में कोई राय बनाना तो नहीं, लेकिन अपने कैरियर को लेकर खुश जरूर हूं। संतुष्ट तो नहीं हूं, लेकिन खुशी इस बात की जरूर है कि इनते कम समय में मुझे कई नामचीन लोगों के साथ काम करने का मौका मिला। यानी लोगों से मिलकर अ'छा लगता है, जो आपके काम की अहमियत को समझते हैं।

फिल्म की स्टोरी और रोल के बारे में बता दीजिए?

पुलकित... यह कहानी आकाश की है, जिसकी जिंदगी एक डेस्टिनी पर टकी होती है। यानी डेस्टिनी अगर चाहे, तो वह वहां तक आपको पहुंचा देगी, वर्ना कोई और नहीं...। एक छोटे शहर टनकपुर से तालुकात रखने वाला आकाश मायानगरी मुंबई में अपना कुछ हुनर दिखाने की तलाश में आता है।

यामी... मेरा किरदार श्रुति का है, जो वही छोटे शहर से होती है। श्रुति आकाश की हर दीवार और बंदिशों को तोडऩे की चाहत रखती है। वह हर तरह से सभी को जीना सिखाती है। यानी वह किसी भी तरह की कोई टेंशन नहीं लेती है। हमारी केमेस्ट्री अ'छी है, जिसे देखना काफी दिलचस्प होगा।

निर्देशिका दिव्या के साथ काम का एक्सपीरियंस शेयर करना चाहेंगे?

पुलकित... उन्होंने फिल्म में जो भी लोकेशंस दिखाई हैं, वाकई में ताजुब होता है कि उन्होंने इस तरह की रेकी पहले कैसे की होगी...। न जाने कितने पहाड़ों के बाद अपने लोकेशन तक पहुंच पाते थे। लद्दाख जैसे शूटिंग स्पॉट में पानी तक नहीं होता था। इस तरह से वे अपने काम को लेकर हिटलर हैं।

यामी... वाकई में उनमें अपने काम को लेकर बहुत जुनूनियत है, वे पर्टिकुलर होने के साथ ही अपने निर्देशन के लिहाज से काफी होम-वर्क करती हैं। सिर्फ कहानी ही नहीं, बल्कि किरदार को लेकर भी वे कई मायनों में कुछ अलग ही करती हैं। उनका हर काम रिसर्च के साथ उसकी गहराई मेें जाता हुआ सा दिखता है।

दिव्या के नए चेहरों को मौका देने के अंदाज को लेकर आप क्या कहना चाहेंगे?

पुलकित... वाकई में उन्होंने अपनी इस फिल्म में भी बिल्कुल न्यू कमर भारती को मौका दिया है। मुझे तो उनके साथ काम करने में काफी अ'छा लगा। उनमें बहुत ही फ्रेश एनर्जी देखने को मिली, जिसे ऑडियंस भी देखना पसंद करेगी। उनका अंदाज निराला है, वे अपनी कहानी को नए लोगों के साथ दिखाने का खुद में हुनर रखती हैं।

यामी... इस तरह से किसी एक पर नहीं, वे अपने पूरे प्रोजेक्ट में हर तरह से कुछ नया ही करने की चाहत रखती हैं। वे लोगों के बीच एक फ्रेश मसाला ही लेकर आती हैं, जिनके विजन की हर तरह से तारीफ की जा सकती है। फिल्म के प्रति उनके निर्देशन में हर बात कुछ अलग ही देखने को मिला। वाकई में वे तारीफ लायक हैं।

बी-टाउन में कोई ड्रीम रोल?
पुलकित... (फिर... वही अंदाज...) सनम रे। हंसते हुए ड्रीम रोल तो हर किसी का होता है। बस मेरे लिए तो सिर्फ और सिर्फ लव स्टोरी ही है, जो मेरा ड्रीम है।
यामी... वॉरियर प्रिंसेज। यानी एक योद्धा राजकुमारी की तरह का कोई किरदान निभाते की तमन्ना है।

आपके बारे में कोई ऐसी बात, जो लोगों को न पता हो?
पुलकित... शायद यह लोग नहीं जानते होंगे कि मैं सोता बहुत कम हूं। यानी चार से साढ़े चार बजे तक सो जाता हूं और सुबह छह से साढ़े छह बजे तक उठ भी जाता हूं।

यामी... हंसते हुए। मैं यह कह सकती हूं कि मेरा सेंस ऑफ ह्यूमर बहुत अ'छा है। लोगों ने मेरे बारे में सीरियसपन की धारना गलत ही बना रखी है।

पुलकित से - श्वेता से अलग हाने से क्या सलमान के साथ आपके रिलेशन में कोई फर्क पड़ा?
वही लहजे में... अब सनम रे... से रिलेटेड उसका क्या लेना देना...। बस, मुस्कुरा पड़ते हैं और थोड़ा अलग मिजाज...। खैर, जब हम फुरसत में चाय के लिए बैठेंगे तो फुरसत में बात करेंगे...।

यामी से - उर्वशी के साथ कोई कम्पटीशन रहा आपका?
नहीं, बिल्कुल भी नहीं...। देखिए हम जब किसी फिल्म में एक अभिनेत्री की तरह काम करते हैं तो वहां पर सिर्फ एक टीम का काम होता है। इस तरह से सभी की इ'छा होती है कि फिल्म अ'छी बने, जिसे लोगों की सराहना मिले...। वैसे भी हमारे बीच काफी कम सींस ही हैं।

आजकल लाइमलाइट में आ रहे रिलेशनशिप के बारे में क्या कहना चाहेंगे?

पुलकित... वाकई में मीडिया में रोज न्यूज आ रही है कि हमारी फिल्म 12 फरवरी को सनम रे रिलीज हो रही है...। बस, फिर वही जुदा और निदाले लहजे में जोर-जोर से हंसने में बिजी हो जाते हैं...।
यामी... सही कहा है..., थैंक यू।