स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शम्मी कपूर ने घर से छुपकर की थी गीता बाली से शादी, पत्नी की मौत के बाद जीने लगे थे दर्दभरी ज़िंदगी

Neha Gupta

Publish: Jan 21, 2020 14:40 PM | Updated: Jan 21, 2020 14:40 PM

Bollywood

  • शम्मी कपूर (Shammi Kapoor) ने घर से छुपकर की थी गीता बाली से शादी
  • चेचक की बीमारी ने ले ली थी गीता (Geeta Bali) की जान
  • पत्नी के देहांत के बाद शम्मी कपूर हो गए थे अकेले

नई दिल्ली | गीता बाली (Geeta Bali) 50 और 60 के दशक में बॉलीवुड इंडस्ट्री की फेमस एक्ट्रेस थीं। उन्होंने कम ही फिल्में की लेकिन उस दौरान उनकी एक्टिंग का जादू स्क्रीन पर दिखाई देता था। राज कपूर और देव आनंद के गीता की जोड़ी लोगों को काफी पसंद आती थी। पर्सनल लाइफ की बात करें तो गीता ने अपने से 2 साल छोटे बॉलीवुड एक्टर शम्मी कपूर से शादी की थी। लेकिन वो ज्यादा लंबे समय तक शम्मी का साथ ना दे सकीं। चेचक की बिमारी की वजह से महज 35 साल की उम्र में उनकी मौत साल1965 में हो गई थी। गीता और शम्मी कपूर की मुलाकात का किस्सा भी बड़ा रोमांचक है। चलिए आपको दोनों की लव स्टोरी के बारे में बताते हैं।

[MORE_ADVERTISE1]

गीता बाली (Geeta Bali) की मुलाकात शम्मी कपूर से साल 1955 में फिल्म 'रंगीन रातें' की शूटिंग के दौरान हुई। इस फिल्म में उन्होंने कैमियो किया था लेकिन दोनों का प्यार यहीं से शुरू हो गया था। शम्मी गीता के प्यार में इस कदर खो गए थे कि उन्होंने 4 महीने के अंदर ही उनसे शादी कर ली। सुत्रों के मुताबिक, शम्मी कपूर ने अपनी शादी की जानकारी घर में नहीं दी थी। शादी के बाद सब कुछ ठीक चल रहा था लेकिन जब गीता ने बेटी को जन्म दिया उसके बाद से ही उनकी तबीयत खराब होने लगी थी। दरअसल, उन्हें चेचक की बीमारी हो गई थी और साल 1965 में उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया।

[MORE_ADVERTISE2]

पत्नी के देहांत के बाद शम्मी कपूर काफी टूट गए थे। उन्होंने अपना ख्याल रखना तक छोड़ दिया था जिसके बाद घरवालों ने उनपर शादी का दबाव बनाया। परिवार चाहता था कि वो नीला देवी से शादी कर लें। शम्मी को घरवालों ने बड़ी ही मुश्किल से मनाया और एक रात उन्होंने नीला देवी से रात के 2 बजे फोन पर बात की जो सुबह खत्म हुई। उस दौरान उन्होंने गीता और अपने बच्चों के बारे में बताया और अपने बारे में भी जानकारी दी। शादी के पहले शम्मी ने नीला के सामने एक शर्त रखी कि वो कभी मां नहीं बनेंगी जिसे नीला ने मान लिया। फिर दोनों ने परिवार की रज़ामंदी से शादी कर ली।

[MORE_ADVERTISE3]