स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एक दिन में 30 कप चाय पी जाता था ये स्टार, एक दिन सेट पर चाय नहीं मिली तो अगले दिन किया था ऐसा कांड...

Riya Jain

Publish: Nov 11, 2019 15:16 PM | Updated: Nov 11, 2019 15:16 PM

Bollywood

एक्टर अमजद खान ( amjad khan ) के बारे में अनसुनी बातें।

हिंदी सिनेमा में 'शोले' ( sholey ) फिल्म के 'गब्बर' का किरदार निभाकर मशहूर हुए एक्टर अमजद खान ( amjad khan ) का जन्म 12 नवंबर को पेशावर में हुआ था। उन्होंने अपने कॅरियर में कुल 130 फिल्मों में काम किया। हालांकि स्टार ने ज्यादातर फिल्मों में विलेन और साइड रोल ही निभाया। अमजद का कॅरियर करीब 20 साल लंबा रहा। फिल्मों में आने से पहले वो थिएटर आर्टिस्ट थे। एक्टर के दो भाई इम्तियाज खान और इनायत खान भी एक्टर थे। अमजद पहली बार 1951 में आई फिल्म 'नाजनीन' में नजर आए थे। आज सालों बाद भी उन्हें 'गब्बर' के नाम से याद किया जाता है।

 

[MORE_ADVERTISE1]अमजद से पहले इस मशहूर एक्टर को गब्बर का किरदार देने वाले थे 'शोले' के राइटर, नहीं पसंद आई थी एक्टर की आवाज[MORE_ADVERTISE2]

जावेद को नहीं पसंद आई थी अमजद की आवाज

बहुत कम लोग जानते हैं कि अमजद 'शोले' फिल्म में 'गब्बर' के किरदार के लिए पहली पसंद नहीं थे। जावेद अख्तर, जिन्होंने सलीम खान के साथ मिलकर फिल्म की कहानी लिखी थी, उन्हें अमजद खान की आवाज गब्बर के किरदार के हिसाब से दमदार नहीं लगी। वह चाहते थे कि गब्बर के किरदार के लिए डैनी को चुना जाए। लेकिन फिर कुछ ऐसा हुआ कि अमजद को इस किरदार के लिए चुना गया और उन्होंने इतिहास रच दिया।

 

[MORE_ADVERTISE3]अमजद से पहले इस मशहूर एक्टर को गब्बर का किरदार देने वाले थे 'शोले' के राइटर, नहीं पसंद आई थी एक्टर की आवाज

एक दिन में 30 कप चाय पी जाते थे स्टार

अमजद को चाय का बेहद शौक था। वह रोजाना तीस कप चाय पी जाते थे और जब उन्हें चाय नहीं मिल पाती थी तो उनके लिए काम करना मुश्किल हो जाता था। एक किस्सा बहुत मशहूर है जब पृथ्वी थियेटर में अमजद एक प्ले कि रिहर्सल कर रहे थे। उस दौरान उन्हें चाय नहीं मिली और वह परेशान हो गए। उन्होंने पूछा तो बताया गया कि दूध खत्म हो गया है। अगले दिन अपनी चाय की तलब मिटाने के लिए उन्होंने सेट पर एक नहीं बल्कि दो भैंसे लाकर बांध दीं और चाय वाले को हिदायत दी कि चाय बनती रहनी चाहिए।