स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नहीं चलेंगी पार्टी विरोधी गतिविधियां आपको कांग्रेस से 6 साल के लिए निकाला जाता है और ये साहब हो गए बाहर

Saurabh Tiwari

Publish: Aug 14, 2019 11:35 AM | Updated: Aug 14, 2019 11:35 AM

Bilaspur

पार्टी विरोधी गतिविधियों का आरोप, पार्टी ने त्रिलोक को बाहर किया

बिलासपुर. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त रहने, अनुशासनहीनता करने और ब्लाक कांग्रेस कमेटी द्वारा त्रिलोक श्रीवास के खिलाफ किए गए शिकायत व निष्कासन प्रस्ताव के बाद भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की प्राथमिकी सदस्यता से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है। इसके अलावा नगर निगम सीमा वृद्धि करने वाले अन्य कांग्रेसियों की शिकायत बुधवार को गृह एवं प्रभारी मंत्री से करने की तैयारी है। कोनी कांग्रेस नेता सभापति त्रिलोक श्रीवास को कांग्रेस ने दूसरी बार निष्कासित किया है।

इससे पहले विधानसभा चुनाव में अपनी ही पार्टी के खिलाफ बगावत कर सायकल छाप से चुनाव लडऩे के जिस पार्टी का अध्यक्ष अशोक अग्रवाल थे। त्रिलोक को अशोक अग्रवाल द्वारा ही टिकट दिलाया गया था उसके बाद कांग्रेस ने 6 साल के लिए निष्कासित किया था, लेकिन दो साल बाद निष्कासन वापस ले लिया गया। ब्लाक अध्यक्ष झगरराम सूर्यवंशी ने लोकसभा चुनाव में पार्टी विरोधी काम करने की शिकायत की थी। वर्तमान में सरकार में रहते हुए नगर निगम सीमा वृद्धि का विरोध किया जा रहा था। जिसके कारण त्रिलोक को 13 अगस्त को निष्कासित कर दिया गया है। वहीं बुधवार को गृह मंत्री जिले के प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू शहर में रहेगें। तिफरा, सकरी, सिरगिट्टी, देवरीखुर्द, लिंगियाडीह सहित अन्य जगह पर कांग्रेसियों ने सीमा वृद्धि का विरोध किया है ऐसे लोगों के खिलाफ प्रभारी मंत्री से शिकायत की जाएगी।

मुझे पार्टी से निष्कासित किया गया है इसकी जानकारी नहीं है। मैने पार्टी विरोधी काम नहीं किया है। क्षेत्र के लोगों ने दावा आपत्ति करने के लिए आवेदन किया है।
त्रिलोक श्रीवास, कांग्रेस नेता

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर त्रिलोक श्रीवास को 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित किया गया है।
विजय केशरवानी, जिलाध्यक्ष कांग्रेस कमेटी