स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यहां सस्ते में होने लगीं जमीन की रजिस्ट्रियां तो ऑफिस में लगने लगी रजिस्ट्रियां कराने लोगों की भीड़

Murari Soni

Publish: Sep 21, 2019 11:44 AM | Updated: Sep 21, 2019 11:44 AM

Bilaspur

Registry charges in cg: रजिस्ट्री दर घटी तो रजिस्ट्री बढ़ी, जमीन की रजिस्ट्री से 126 करोड़ रुपए की आय

बिलासपुर. जिले में रियल एस्टेट सेक्टर में अप्रत्याशित वृद्धि देखने को मिली है। इसके साथ ही राज्य सरकार के राजस्व में भी वृद्धि हुई है। राज्य सरकार द्वारा छोटे भूखंडों की खरीद बिक्री से रोक हटाने, सम्पत्ति गाइडलाइन दर में 30 फीसदी की कमी के फैसले से जिले में जमीन के रजिस्ट्री की आय में काफी वृद्धि हुई है।

पिछले आठ महीने के दौरान जनवरी से अगस्त तक इस साल 19 हजार 668 दस्तावेजों का पंजीयन हुआ है। इसी अवधि में जिले से पंजीयन शुल्क के तौर पर 126 करोड़ रुपए से अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ है। वहीं पिछले वर्ष जनवरी से अगस्त 2018 के दौरान 14 हजार 823 दस्तावेजों का पंजीयन और 92 करोड़ से अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ था।

इस प्रकार पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष 8 माह में ही पंजीयन शुल्क से 72 फीसदी से अधिक राजस्व की प्राप्ति हुई है। पिछले वर्ष की तुलना में इस साल बीते 8 माह में 4 हजार 845 से अधिक दस्तावेजों का पंजीयन हुआ और पंजीयन शुल्क के रूप में 34 करोड़ रुपए से अधिक की राजस्व प्राप्ति हुई है।