स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

करोड़पति बनने शातिर बड़ी मां ने देवर के लड़के का अपहरण कराया, कोर्ट के सामने अब पुलिस ने खोल दिया कच्चा चिट्ठा

Murari Soni

Publish: Jul 20, 2019 19:39 PM | Updated: Jul 20, 2019 19:53 PM

Bilaspur

Child kidnapping: विराट अपहरण (VIRAT KIDNAPPING CASE) मामले में पुलिस ने 1750 पन्नों का चालान पेश किया

बिलासपुर. शहर के चर्चित विराट अपहरण(Virat kidnapping case) कांड मामले में पुलिस(bilaspur police) ने शुक्रवार को जिला न्यायालय में 1750 पन्नो का चालान कोर्ट में पेश किया(Invoice appeared in court)। कोतवाली पुलिस के अनुसार करबला रोड भाजपा कार्यालय के सामने कश्यप कॉलोनी निवासी व बर्तन व्यापारी विवेक सराफ के एकलौते बेटे(Child kidnapping) विराट सराफ (6) का सफेद वैन से पहुंचे अपहरण कर्ताओं ने अपहरण(child kidnaped) कर लिया था। मौके पर लगे सीसीटीवी कैमरे(cctv camera) में विराट को सफेद रंग की वैगनआर कार(car)से अपहरण करने के बाद लेजाते एक आरोपी की तस्वीर कैमरे में कैद हुई थी।

ये भी पढ़ें- विराट किडनेपिंग केस क्या है, कब हुआ सारी खबरें पढ़ें

21 अप्रैल को विराट के पिता विवेक के मोबाइल पर अनजान नंबर से विराट के अपहरण की जिम्मेदारी लेते हुए अपहरण कर्ता ने 6 करोड़ की फिरौती मांगी थी। विवेक ने फिरौती नहीं दे पाने की बात कही थी। अपहरण कर्ता ने 23 व 24 अप्रैल को 3 बार विवेक को कॉल लिया और फिरौती मांगी। विवेक से डेढ़ करोड़ रुपए में फिरौती के लेनदेन तय हुआ। पुलिस ने अपहरण कर्ता का मोबाइल नंबर ट्रेस किया। फिरौती मांगने वाले ने कॉल बिहार, उत्तरप्रदेश और झारखंड के अलग-अलग इलाको से किया था। इस बीच पुलिस टीम को पता चला कि विराट के परिजनों के करीबी व्यक्ति आरोपियों तक जानकारी पहुंचा रहा है।

 

 

जानकारी मिलने पर टीम ने परिजनों से पूछताछ की। इधर मोबाइल कॉल लोकेशन ट्रेस करने पर पता चला कि अपहरण करने वाले आरोपी ने जरहाभाठा क्षेत्र में रहने वाले एक व्यक्ति से लगातार मोबाइल पर कॉल कर बातचीत की है, जरहाभाठा पन्ना नगर में रहने वाले राज किशोर सिंह पिता शत्रुघन सिंह पिछले कुछ दिनों से घर में ताला लगाकर बिहार चला गया है। उसके मकान में बच्चे को रखे जाने की आशंका पर पुलिस ने मकान का दरवाजा तोड़कर विराट पुलिस को बरामद किया था।

मामले में पुलिस ने हरेकृष्ण कुमार राय पिता रामनेरश राय निवासी ग्राम फलहरा, भोजपुर बिहार, रतनपुर निवासी सतीश शर्मा पिता रमाकांत शर्मा और तिफरा निवासी अनिल सिंह पिता रामसिंह राजपूत को गिरफ्तार किया था। 27 जुलाई को पुलिस ने (Invoice appeared in court)मामले में विराट (Child kidnapping)की बड़ी मां नीता सराफ को गिरफ्तार किया था। 10 मई को पुलिस ने फरार आरोपी राजकिशोर सिंह को बिहार से गिरफ्तार किया था। मामले (Virat kidnapping case)में पुलिस(bilaspur police) ने शुक्रवार को 1750 पन्नों का चालान जिला न्यायालय में पेश किया, जिसमें आरोपियों के मोबाइल टॉवर डंप, मोबाइल लोकेशन, मोबाइल पर हुई बातचीत, फिरौती की मांग(Demand of ransom)की रिकार्डिंग समेत अन्य दस्तावेज कोर्ट में पेश किए हैं।