स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एक बच्चे को जन्म देने में रोज हो जाती है 8 सौ महिलाओं की मौत, पढ़ें बढ़ती जनसंख्या से जुड़े रोचक तथ्य

Karunakant Chaubey

Publish: Jul 10, 2019 17:06 PM | Updated: Jul 10, 2019 17:07 PM

Bijapur

World Population Day: बढ़ती जनसंख्या की यह समस्या सिर्फ किसी एक देश की नहीं है बल्कि आज भारत के साथ विश्व में कई ऐसे देश है जो जनसंख्या की विस्फोटक स्थिति के दौर से गुजर रहें है | इन देशों में गरीबी, शिक्षा की कमी, और बेरोजगारी ऐसे अहम कारक है जिनकी वजह से जनसंख्या का यह विस्फोट (population explosion) प्रतिदिन होता जा रहा है

बीजापुर. World Population Day: ग्लोबल वार्मिंग का बढ़ता प्रभाव, असंतुलित होता मौसम ऊपर से दिनोंदिन बढ़ती जनसंख्या, ये सभी पूरे विश्व को प्रभावित कर रहें है। दुनिया भर में लगातार जनसंख्या का बढ़ता घनत्व व्यक्ति विकास के लिए एक बड़ी चुनौती बनता जा रहा है।

अंडा खिलाकर मासूम के साथ दुष्कर्म करने वाले अधेड़ ने नाबालिग के साथ फिर कर दी घिनौनी हरकत

अत: जनसंख्या के इस विस्फोटक (population explosion) स्थिति में पहुँचने के कारणों, इसके खतरों से आगाह करने, बढ़ती जनसंख्या को नियंत्रित करने एवं एक मंच पर लोगों को बुलाकर अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर जागरूकता फैलाने उद्देश्य से हर वर्ष 11 जुलाई का दिन वर्ल्ड पापुलेशन डे के रूप मनाया जाता है।

आइये जानते हैं जनसंख्या वृद्धि से जुड़े कुछ हैरान कर देने वाले तथ्य

1-दुनिया की कुल आबादी का आधा हिस्सा सिर्फ चीन, भारत, पाकिस्तान, ब्राजील, अमेरिका और इण्डोनेशिया में है।
2-विश्व की जनसंख्या का लगभग 50.4 % पुरुष और 49.6 % महिला है।
3-विश्व की सर्वाधिक जनसंख्या वाले शहर का दर्जा चीन के संघाई शहर का है।
4-अगर फेसबुक एक देश होता और इसके यूजर निवासी तो यह दुनिया का सबसे अधिक आबादी वाला देश होता।
5-आंकड़ो के अनुसार हर 20 मिनट में लगभग 3000 लोग पैदा होते है।
6-मानव सभ्यता की शुरुआत से लेकर अब तक 108 अरब लोग हमारी धरती पर रह चुके है।
7-एक बच्चे को जन्म देने की प्रक्रिया में रोजाना लगभग 800 महिलाओं की मृत्यु हो जाती है।

विश्व जनसंख्या दिवस का इतिहास

11 जुलाई 1987 में जब विश्व की जनसंख्या पांच अरब के आंकड़े (population explosion) को पार कर गई थी। तब से इस विशेष दिन को वर्ल्ड पापुलेशन डे (World Population Day) घोषित कर हर साल परिवार नियोजन का संकल्प लेने व आम जनता में जागरूकता को बढ़ाने के दिन के रूप में याद किया जाने लगा।

जानिये, आठ लाख की इनामी महिला नक्सली के पास से बरामद हुई थाली में क्यों हो गया था सुराख

इस महान कार्यक्रम को मनाने का निर्णय संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा लिया गया था। पर जनसंख्या दिवस के उद्देश्य से परे इस दिन जागरूकता के नाम पर दुनिया भर में अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।

World population Day से जुडी खबरे पढ़ने के लिए यहाँ Click करें।

 

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर...
खबरों पर बने रहने के लिए Download करें Hindi news App