स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दसवीं के छात्र को मुखबिर बता नक्सलियों ने कर दी हत्या, डर के मारे परिजन नहीं कर रहे शिकायत

Karunakant Chaubey

Publish: Sep 22, 2019 21:48 PM | Updated: Sep 22, 2019 21:48 PM

Bijapur

परिजनों ने नक्सलियों डर की वजह से घटना की सूचना पुलिस को नही दी और आनन फानन में ग्रामीणों से रायशुमारी कर छात्र के शव का अंतिम संस्कार भी कर दिया था।

बीजापुर. Naxalite murder class 10th student: बीजापुर के बासागुड़ा इलाके के तिम्मापुर गांव में नक्सलियों ने 10 वी के छात्र की हत्या कर दी। एसपी दिव्यांग पटेल के मुताबिक बासागुड़ा थाना क्षेत्र के तिम्मापुरम गांव में 16 सितम्बर को नक्सलियों ने कथित तौर पर जनअदालत लगाकर पुलिस मुखबिरी के शक में छात्र रमेश कुंजाम की हत्या दी थी।

ISIS जैसे आतंकी संगठन की तरह काम कर रहे नक्सली, बेदर्दी से रेत दिया गला

परिजनों ने नक्सलियों डर की वजह से घटना की सूचना पुलिस को नही दी और आनन फानन में ग्रामीणों से रायशुमारी कर छात्र के शव का अंतिम संस्कार भी कर दिया था। हत्या की जानकारी रविवार को पुलिस को मिली, जिसके बाद मामले की जांच की जा रही है।

शुरू हो गया वो सप्ताह जिसमें 15 सालों से इन इलाकों में थम जाता है सबकुछ, जानिये क्या है वजह

ग्रामीण सूत्रों के अनुसार रमेश कुंजाम पर माओवादियों को शक था की वह उनके मूवमेंट की जानकारी पुलिस को देता है। इसलिए कुछ माह पहले नक्सलियों उसके परिजनों को इसकी जानकारी देते हुए धमकी दिए थे कि उसे मुखबिरी करने से रोकें और नक्सलियों संगठन में शामिल हो जाए। मामले की पतासाजी के लिए पुलिस मौके के लिए रवाना हुई है।

76 जवानो के खून से सने हैं जिसके हाथ उस खूंखार नक्सली ने किया आत्मसमर्पण

इसी महीने बीजापुर में पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में तीन नक्सली मारे गए थे । इसके अलावा 15 दिन में बीजापुर में नक्सल संगठन के बड़े कैडर की गिरफ्तारी और संरेडर हुए हैं । इसके चलते ही नक्सली बौखलाए हुए हैं और मुखबिरी के शक में ग्रामीणों को निशाना बना रहे हैं । पुलिस मामले की जांच में जुट गई है ।