स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बारिश के लिए हुई नमाज-ए-इस्तिसका, मंदिरों में महादेव का किया जलाभिषेक

KRISHNAKANT SHUKLA

Publish: Jul 20, 2019 11:03 AM | Updated: Jul 20, 2019 11:23 AM

Bhopal

11 दिनों से रूठे बादल हुए मेहरबान, खुशी से खिले लोगों के चेहरे

भोपाल. सेंट्रल लायब्रेरी मैदान पर शुक्रवार दोपहर तीन बजे हजारों हाथ बारिश की दुआ के लिए उठे, तो ऐसा लगा कि ऊपर वाले ने दुआ भी तुरंत कबूल कर ली। शहरकाजी सैय्यद मुश्ताक अली नकवी ने बारिश के लिए की जाने वाली नमाज इस्तिसका अदा कराई, वहीं कुछ ही देर पहले शहर की सैकड़ों मस्जिदों में जुमे की नमाज के बाद बारिश के लिए विशेष दुआएं हुईं।

दूसरी तरफ बारिश के लिए कई मंदिरों में अमरनाथ से लाए पवित्र जल से भगवान शंकर का अभिषेक, तो कहीं रूद्राभिषेक किया गया। चर्चों में भी विशेष प्रार्थना की गई। नमाज के बाद लोगों ने शहर और प्रदेश में रहमत की बारिश के लिए दुआ मांगी। लोग अभी घर भी नहीं पहुंचे सके थे कि बारिश शुरू हो गई। जिस सूखे मैदान में दुआ मांगी गई, वो आधे घंटे बाद ही पानी से भर चुका था।

लगातार मौसम की बेरुखी के बाद से ही तीन-चार दिनों से मंदिरों, गिरजाघरों और धर्मस्थलों पर बारिश के लिए प्रार्थनाएं हो रही थीं। प्रार्थनाओं का क्रम शुक्रवार को भी चलता रहा, इसी बीच दोपहर बाद बारिश शुरू हुई तो सभी की प्रार्थना, दुआएं कबूल हो गईं। इधर नमाज खत्म होते-होते आसमान पर काले बादल छा गए, गडगड़़ाहट होने लगी।

 

मेंढक-मेंढकी की शादी कराई

ओम शिव शक्ति सेवा मंडल के सचिव रिंकू भटेजा ने बताया कि मंडल के सदस्यों द्वारा महादेव मंदिर (इंद्रपुरी) में अच्छी वर्षा के लिए मेंढक-मेंढकी का विवाह कराया गया। संयोग रहा कि विवाह संपन्न होते ही बारिश भी हुई। कार्यक्रम में गुड्डू अग्रवाल, प्रमोद तरेन, मनोज पांडेय, योगेश श्रीवास्तव, प्रदीप सोनी, गजेंद्र ठाकुर, अमरीश पटेल, अशोक पटेल एवं जगदीश बाबा आदि मौजूद रहे।

वर्षा के लिए भगवान पिपलेश्वर महादेव का अभिषेक, संकल्प लेते ही शुरू हुई वर्षां

सावन मास शुरू होने के बावजूद बरसात नहीं होने कारण उत्तम वर्षा के लिए पूजा-पाठ और अभिषेक का क्रम जारी है। अच्छी बरसात की प्रार्थना के साथ नेहरू नगर के कोटरा सुल्तानाबाद स्थित पिपलेश्वर महादेव मंदिर में शुक्रवार को महादेव के अभिषेक का विशेष आयोजन किया गया। प्रवक्ता भारती तिवारी ने बताया कि संकल्प लेते ही वर्षा प्रारंभ हो गई।