स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Mob Lynching: बच्चा चोर समझ भीड़ ने युवक को लात-घूंसों से पीटा, अफवाह फैलाने वाले की तलाश में जुटी पुलिस

KRISHNAKANT SHUKLA

Publish: Jul 21, 2019 09:30 AM | Updated: Jul 21, 2019 14:29 PM

Bhopal

Mob Lynching: बाणगंगा क्षेत्र में पुलिस ने पकड़े थे दो वाहन चोर, इनमें से एक भागा तो उसे भीड़ ने बच्चा चोर समझ कर पकड़ लिया, सीसीटीवी फुटेज खंगालकर अफवाह फैलाने और युवक के साथ मारपीट करने वालों की तलाश

भोपाल. राजधानी में शनिवार को मॉब लिंचिंग ( Mob lynching ) का मामला सामने आया। बाणगंगा क्षेत्र स्थित होटल पलाश के पास बच्चा चोर होने के शक में भीम नगर निवासी विशाल गिरी को भीड़ ने जमकर पीटा। संदिग्ध अवस्था में देखकर लोगों ने अफवाह फैला दी कि ये बच्चा चोर है। इस पर लोग इकट्ठा हुए और युवक को पीट दिया।

अब पुलिस घटना से जुड़े सीसीटीवी फुटेज खंगालकर अफवाह फैलाने और युवक के साथ मारपीट करने वालों की तलाश कर रही है। दरअसल, पुलिस को बाइक सवार दो युवक दिखे थे। दोनों ही चोरी की बाइक से घूम रहे थे। ये पुलिस को देखकर घबरा गए। थाना प्रभारी संजीव चौकसे का कहना है कि पुलिसकर्मियों ने भीम नगर निवासी सचिन शर्मा को पकड़ा। सचिन जहांगीराबाद थाने की गुंडा लिस्ट में है और वाहन चोर है।

सचिन के साथ भीम नगर निवासी विशाल गिरी था, वह भी वाहन चोर है। विशाल भागने लगा तो भीड ने उसकी पिटाई कर दी। पुलिस इस मामले में युवक और स्थानीय लोगों से पूछताछ कर रही है। गौरतलब है कि डीआईजी इरशाद वली ने हाल ही में निर्देश दिए हैं कि यदि कोई बच्चा चोरी संबंधी अफवाह फैलाता है, तो उसके खिलाफ एफआईआर की जाएगी। इसके बाद राजधानी में पहली बार मॉब लिङ्क्षचग का मामला सामने आया है।

 

विदिशा में युवक को पीटा : बहन के घर जा रहा था युवक, लोगों ने बच्चा चोर समझ कर पीट दिया

विदिशा. करैयाखेड़ा मार्ग पर एक युवक को बच्चा चोर समझकर लोगों ने पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने बताया कि युवक अपनी बहन के घर जा रहा था। शनिवार दोपहर करैयाखेड़ा मार्ग पर घूम रहे एक युवक को देख लोगों को उस पर शंका हुई और उस पर नजर रखने लगे।

बाद में उसे बच्चा चोर होने की आशंका में पकड़ लिया और जमकर पीट दिया। सूचना पर पुलिस पहुंची और युवक को थाने ले आई। पूछताछ के बाद लोगों की शंका गलत निकली। टीआई राजेश सिन्हा ने बताया कि युवक ग्यारसपुर निवासी है और करैयाखेड़ा मार्ग निवासी बहन के घर जा रहा था। उससे पूछताछ के बाद उसकी बहन को भी बुलवाया कर चर्चा की गई।

बरेली में महिला की पिटाई : शराब के नशे में घूम रही महिला को बेहाश होने तक तक भीड़ ने पीटा

बरेली में इन दिनों जिले में बच्चा चोर गिरोह की चर्चाएं आम हैं। इससे क्षेत्र में दहशत का महौल बना है। शुक्रवार रात एक महिला शराब के नशे में घूम रही थी, जिसे लोगों ने बच्चा चोर समझ लिया और इतना मारा की महिला बेहोश हो गई।

बताया जा रहा है कि शराब के नशे में महिला वार्ड क्रमांक 8 में एक व्यक्ति के घर में जा घुसी, जिसे लोगों ने बच्चा चोर समझ लिया और सडक़ पर लाकर जमकर पीटा। लोगों ने उसका विडियो बनाया और वायरल कर दिया। बाद में यह सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची और पुलिस ने घायल महिला को प्राथमिक उपचार के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। इसके बाद थाने लाकर उससे पूछताछ की गई।

राजगढ़ में भीड़ बेकाबू : भीड़ ने मंदबुद्धि और दो युवकों को पीटा, फिर पुलिस को सौंपा

राजगढ़ के बड़े पुल के पास एक मंदबुद्धि ढाबे से फेंका गया खाना खा रहा था। इसे देख लोगों ने उसे बच्चा चोर कहना शुरू कर दिया। पूछताछ में वह कुछ भी नहीं बता पाया तो लोगों ने उसे पीटना शुरू कर दिया। इसके बाद भीड़ उसे पीटते हुए थाने ले आई। शुरुआती जांच के बाद पुलिस ने उसे छोड़ दिया।

इसी तरह ब्यावरा जाने निकले करनवास निवासी दो युवकों को झखियाखेड़ी गांव के पास लोगों ने बच्चा चोर समझकर पीट दिया। दोनों युवकों को ब्यावरा के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस पूरे प्रकरण के वीडियो तक वायरल हुए, लेकिन पुलिस ने किसी के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया है। पूर्व में भी इस तरह की घटनाएं सामने आती रही हैं।