स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

2 से 3 तीन दिन में तेजी से गिरने वाला है पारा, पड़ेगी कड़ाके की ठंड

Astha Awasthi

Publish: Nov 09, 2019 13:02 PM | Updated: Nov 10, 2019 12:36 PM

Bhopal

जानिए किन जिलों में पड़ेगी कड़ाके की ठंड....

भोपाल। मध्यप्रदेश में मौसम ने बीते कई दिनों में काफी उथल-पुथल मचा रखी है। एक तरफ जहां अक्टूबर के महीने में भी मानसून जाने का नाम नहीं ले रहा था वहीं दूसरी ओर दशहरा और दीपावली के बाद शुक्रवार को देवउठनी ग्यारस पर भी शहर के कई हिस्सों में छिटपुट बारिश हुई। बात अगर राजधानी की करें तो शुक्रवार को एमपी नगर, अरेरा हिल्स, माता मंदिर, रोशनपुरा, सुभाष नगर, अशोका गार्डन, सेमरा, निशातपुरा, शाहजहांनाबाद, मिसरोद, रोहित नगर, सर्वधर्म, राजहर्ष सहित कई जगहों पर हल्की बारिश हुई।

[MORE_ADVERTISE1]सीजन की सबसे सर्द रात, 18 डिग्री पर आया पारा, और बढ़ेगी सर्दी[MORE_ADVERTISE2]

मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि बारिश होने की वजह से आने वाले दो से तीन दिनों में तापमान में गिरावट की पूरी संभावना है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि उत्तर में हुई बर्फबारी के असर से मौसम में बदलाव होगा। रात के तापमान में भी तेजी से गिरावट हो सकती है।

खत्म हो गया है 'महा' का असर

मौसम विभाग ने बताया है कि प्रदेश में कहीं-कहीं हल्की वर्षा या बूंदाबांदी हो रही है, वह 'महा' से आ रही नमी की वजह से हुई है लेकिन अब महा का असर पूरी तरह से खत्म हो गया है। गुजरात से टकराने वाले चक्रवात महा का असर खत्म होते ही बादल छंट गए हैं। जम्मू-कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण पहाड़ों में बर्फबारी का सिलसिला शुरू हो चुका है। इसका असर दो दिन बाद देखने को मिलेगा।

[MORE_ADVERTISE3]बारिश

बर्फ से ढंके पहाड़ों से टकराकर आने वाली उत्तरी हवा आने से रात में ठंड बढ़ेगी। रात के तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट एक सप्ताह के अंदर आ सकती है। साथ ही दिन के तापमान में भी गिरावट आने की संभावना है। शुक्रवार को रात के तापमान में भी गिरावट आई है।

फिर 20 डिग्री के करीब पहुंचा पारा, अब बढ़ेगी ठंड

सुधर गया एयर क्वालिटी इंडेक्स

दिवाली के बाद से राजधानी में वायु प्रदूषण लगातार खतरनाक खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है। पीएम-2.5 का स्तर 200 से 310 के बीच बना हुआ था, लेकिन दो दिन से शहर के कई इलाकों में हुई हल्की बारिश के कारण गुरुवार रात यह घटकर 44 के स्तर पर आ गया। बुधवार रात यह 316 तक पहुंच गया था। शुक्रवार शाम भी बारिश के कारण हवा साफ हो गई।