स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

5 सुंदरियों ने 15 करोड़ रुपये वसूले 'हनी टैक्स', इनके पास है 90 लोगों का 'रंगीन' वीडियो

Muneshwar Kumar

Publish: Sep 22, 2019 15:39 PM | Updated: Sep 22, 2019 15:39 PM

Bhopal


हाई प्रोफाइल जगहों पर जाकर रसूखदार लोगों से करती थीं दोस्ती

भोपाल/ मध्यप्रदेश में इन सुंदरियों का जाल ऐसा कि जिसमें अच्छे-अच्छे रसूखदार फंस गए है। जब तक संभलते तक दलदल में पूरी तरह से फंस चुके होते। इन सुदंरियों की गिरफ्तारी के बाद ऐसे-ऐसे राज खुल रहे हैं, जिससे लोग हैरान हैं। मध्यप्रदेस की इन विष कन्याओं ने न जानें कितने लोगों को बर्बाद किया है। लेकिन अभी तक जो खबरें आईं हैं कि उसके अनुसार हनी टैक्स के रूप में ये लोग करीब 40 लोगों से 15 करोड़ रुपये वसूले हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ये महिलाएं हमेशा रसूखदारों को ही टारगेट करती थीं। जिसमें नेता, अफसर, कारोबारी और ठेकेदार होते। पहले काम के नाम पर इनसे मिलती और फिर दोस्ती बढ़ाना शुरू कर देतीं। इसके बाद इनसे चैटिंग शुरू करती थीं। फिर हाईप्रोफाइल पार्टियों में इन्हें बुलातीं। उसके बाद बातें निजता तक पहुंच जाती है। उसके बाद सार्वजनिक जगहों की जगह बंद कमरे में मुलाकात होने लगती थी।

79.jpg


वसूले हैं 15 करोड़ रुपये
ये पांच सुंदरियां सफेदपोश लोगों को अपने जाल में फंसाकर करीब 15 करोड़ रुपये उनसे वसूले हैं। संबंध बनाने के दौरान खुफिया कैमरे से उनका वीडियो बनातीं और फिर उसे उनके पास भेजकर ब्लैकमेल करतीं। उसके बाद रुपयों का डिमांड करतीं। कई लोग तो इन्हें पैसे देने के चक्कर में बर्बाद हो गएं। दबी जुबान में भोपाल के एक बिजनेसमैन ने बताया कि इनके जाल में फंस मैं पूरी तरह से बर्बाद हो गया हूं।

565_1.jpg

90 लोगों के हैं वीडियो
महिलाओं की गिरफ्तारी के बाद उनके पास से जो गैजेट्स मिले हैं। उसमें 90 रंगीन वीडियो मिले हैं। जो नेता, अफसर, कारोबारी और अन्य रसूखदार लोगों के हैं। साथ ही सैकड़ों रसूखदार लोगों के नंबर मिले हैं, जिनसे इनके संपर्क थे। वीडियो के जरिए ही वह लोगों से वसूली करती थी। सिर्फ वसूली ही नहीं उनसे सरकारी काम और तोहफे भी लेती थीं। कुछ लोग सरकारी ठेका तो कुछ पैसे देकर इनसे पीछा छुड़वाते थे।

788_1.jpg


ये तो हैं मुख्य चेहरे
हनीट्रैप मामले में गिरफ्तार पांच महिलाओं में चार ही गिरोह की मास्टरमाइंड हैं। इनके अलावे गिरोह में और भी दर्जनों लड़कियां हैं, जिनका काम नेताओं औऱ अफसरों के पास जाना होता है। उसके बाद वे पैसे लेकर निकल जाती हैं। इस गिरोह की कई विदेशी लड़कियां भी जुड़ी हैं।

हाईवे पार्टी में बुलाती थीं सफेदपोशों को
ये महिलाएं हाईवे पर बनीं रिसॉर्ट में लेट नाइट पार्टी भी खूब करती थीं। उन पार्टियों में अपने रसूखदार दोस्तों को भी बुलाती थीं। इन पार्टियों में कई आईएएस और आईपीएस अफसर भी पहुंचते थे। इनके फेसबुक प्रोफाइल पर जाने पर कई रसूखदार लोगों के साथ इनकी तस्वीरें भी थीं। लेकिन मामला उजागर होने के बाद उसे डिलिट कर दिया।