स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

स्कूल में पोषाहार बनाने वाली महिला से शिक्षक ने दो दिनों तक किया ऐसा काम, फिर महिला गैंग ने ऐसे चखाया मजा

Dinesh Saini

Publish: Apr 24, 2019 15:28 PM | Updated: Apr 24, 2019 15:28 PM

Bhiwadi

गुस्साई महिलाओं ने शिक्षक के साथ मारपीट की। इसके बाद शिक्षक को कमरे में बंद कर विद्यालय के गेट पर ताला जड़ दिया...

अलवर।

राजस्थान के अलवर जिले के बानसूर क्षेत्र में एक शिक्षक की पिटाई का वीडियो सामने आया है। शिक्षक पर आरोप है कि उसने महिला के साथ अभद्र व्यवहार किया है। बानसूर की ग्राम पंचायत खोहरी के गांव लालसिंह की ढाणी के राप्रावि में मंगलवार सुबह पोषाहार बनाने वाली महिला से अभद्र व्यवहार करने पर गुस्साई महिलाओं ने शिक्षक के साथ मारपीट की। इसके बाद शिक्षक को कमरे में बंद कर विद्यालय के गेट पर ताला जड़ दिया। पुलिस ने शिक्षक को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, विभाग ने प्रथम दृष्टया जांच में दोषी मान शिक्षक को निलम्बित करने की सिफारिश भी की है।

 

 

teacher beating

 

स्कूल के शिक्षक पूरणचंद ने स्कूल में पोषाहार बनाने वाली महिला से दो दिनों तक अभद्र व्यवहार किया। उसने महिला को धमकी भी दी। इस बात का पता चलने पर महिला के परिजन व ग्रामीण आक्रोशित हो गए। उन्होंने शिक्षक पूरणचंद से मारपीट कर दी और उसे कमरे में बंद कर स्कूल गेट पर ताला लगा दिया। इसकी सूचना मिलने के बाद सीबीईओ मनोज सिंह शेखावत गांव पहुंचे और ग्रामीणों को समझाइश कर स्कूल का ताला खुलवाया। पुलिस थाने में इस संबंध में कोई भी मामला दर्ज नहीं हुआ है। पुलिस ने शिक्षक को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है।

 

teacher beating

 

उधर, मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी मनोज सिंह शेखावत के अनुसार शिक्षक के खिलाफ प्रकरण बनवाकर जिला शिक्षा अधिकारी प्रारम्भिक को भेज दिया गया है। मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी ने अपनी जांच रिपोर्ट जिला शिक्षा अधिकारी को सौंप दी है। मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी ने बताया कि कुक कम हैल्पर के साथ अभद्र व्यवहार के मामले शिक्षक पूरणचंद यादव को दोषी माना गया है।

 

teacher beating

 

इस मामले में पीडि़त महिला का कहना है कि प्रकरण में उसके व अन्य शिक्षकों और ग्रामीणों के बयान लिए गए हैं। पीईईओ की रिपोर्ट के आधार पर प्रथम दृष्टया शिक्षक को दोषी माना है। जिसके आधार पर आरोपी शिक्षक को तत्काल निलंबित कर मुख्यालय अन्यंत्र करने की सिफारिश की गई है। प्रकरण में आरोपी शिक्षक ने पीडि़ता को धमकी भी दी है।