स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ग्वालियर भिण्ड पैसेंजर से भी 23 अक्टूबर से इटावा तक सफर कर सकेंगे यात्री

Rajeev Goswami

Publish: Oct 21, 2019 15:28 PM | Updated: Oct 21, 2019 15:28 PM

Bhind

कोटा पैसेंजर हुई एक्सप्रेस, कल कोटा से पहली बार इटावा के लिए होगी रवाना

भिण्ड. रेलवे ने कोटा पैंसेजर को न सिर्फ एक्सप्रेस ट्रेन में तब्दील कर दिया है बल्कि अब यह ट्रेन इटावा तक जाएगी। उक्त ट्रेन पहली बार मंगलवार को 11.40 बजे कोटा से रवाना होगी और बुधवार को 1.30 बजे इटावा पहुंचेगी।

इसके अलावा रेलवे ने ग्वालियर से भिण्ड के बीच चलने वाली ग्वालियर भिण्ड ट्रेन का भी इटावा तक विस्तार कर दिया है। ये गाड़ी अब सुबह 6 बजे ग्वालियर से चलकर 9.30 बजे इटावा पहुंचेगी। इटावा से 10 बजे ग्वालियर के लिए प्रस्थान करेगी। एक साथ दो ट्रेनों का विस्तार किए जाने से यात्रियों में खुशी का माहौल है।

यहां बता दें कि कोटा-इटावा एक्सप्रेस के 49 स्टापेज रखे गए है। यह गाड़ी अब ग्वालियर से भिण्ड के बीच भदरौली, रिठौरा कलां, नौनेरा, रायतपुरा,सौंधा रोड, अशोखर, ऐंतहार आदि स्टेशनों पर नहीं रूके गी। इस गाड़ी में सामान्य श्रेणी के 6 तथा स्लीपर श्रेणी- 4,वातानुकूलित तृतीय श्रेणी का डिब्बा होगा। टे्रन में कुल 13 डिब्बे होंगे।

इसी प्रकार ग्वालियर भिण्ड पैसेंजर का भी विस्तार इटावा तक कर दिया गया है। अभी तक ये भिण्ड तक ही आती थी।

23 अक्टूबर को ये गाड़ी पहली बार सुबह 6 बजे ग्वालियर से चलकर 9.30 इटावा पहुंचेगी और 10 बजे वहां से चलकर 1.45 बजे ग्वालियर पहुंचेगी। भिण्ड इटावा के बीच पहली बार फरवरी 2016 में यात्री ट्रेन चली थी तभी से लगातार इस ट्रैक पर गाडिय़ों की संख्या बढ़ाए जाने की मंाग की जाती रही है।

इंदौर से चलकर भिण्ड तक आने वाली इंटरसिंटी को भी रेलवे कभी भी इटावा तक विस्तारित कर सकता है। गाडिय़ों के मार्ग में विस्तार होने से प्रतिदिन ढाई से तीन हजार यात्रियों को सीधा फायदा होने की संभावना है।


ट्रेनोंं के नंबरों में भी बदलाव

कोटा पैंसेजर डाउन के पहले गाड़ी नंबर 59821 था जो अब 19811 हो गया है।

कोटा भिण्ड अप पैसेंजर का पहले नंबर 59822 था एक्सप्रेस बनने के बाद अब 19812 हो गया।

ग्वालियर-भिण्ड पैंसेजर डाउन का पहले नंबर 59823 था जो अब 51887 हो गया है।

ग्वालियर भिण्ड पैंसेजर ट्रेन का अप का पहले नंबर 59524 था जो अब 51888 हो गया है।

सांसद ने डीआरएम झांसी की बैठक में उठाया था मुद्दा

बीते माह डीआरएम झांसी के साथ हुई ग्वालियर चंबल के सांसदों की बैठक में भिण्ड-दतिया की सांसद संध्या राय ने ग्वालियर इटावा ट्रैक पर यात्री गाडिय़ों की संख्या बढ़ाए जाने का मुद्दा उठाया था। उन्होंंने कई ऐसी गाडिय़ों के नाम भी सुझाए थे जो अभी ग्वालियर होकर भोपाल की ओर जा रही है। इन गाडिय़ों को भिण्ड से चलाए जाने की मांग की थी। बैठक में सांसद ने स्टेशन के सौंदर्यीकरण, सुरक्षा को लेकर भी कई सुझाव डीआरएम के सामने रखे थे।

कोटा एक्सप्रेस के ग्वालियर से इटावा के बीच स्टापेज

कोटा से इटावा इटावा से कोटा

स्टेशन आगमन आगमन

ग्वालियर 9.35 20.30

बिरलानगर 9.47 20.02

शनिचरा 10.04 19.14

मालनपुर 10.16 18.51

गोहद 10.35 18.33

सोनी 10.55 18.16

भिण्ड 12.05 17.50

इटावा 13.30 17.00

-इटावा की ओर प्रतिदिन हजारों की संख्या में यात्री सफर करते है। कई बार चंबल पुल खराब हो जाने पर यात्रियों की भारी परेशानी का सामना करना पड़ता था। किराया ’यादा हो गया है लेकिन सुविधा से लोग खुश है। इटावा से बड़ी संख्या में मरीज उपचार कराने के लिए ग्वालियर की ओर जाते हैं।

ब्रह्मसिंह, यात्री भिण्ड

-ग्वालियर-इटावा टै्रक पर सवारी गाडिय़ों की संख्या बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। हम भिण्ड से भोपाल और दिल्ली के लिए भी गाडिय़ां चाह रहे हैं। यह मुद्दा हमने डीआरएम के सामने भी रखा था। आगे भी बात करेंगे।

संध्या राय, सांसद भिण्ड-दतिया